--Advertisement--

जिले में कृषि कनेक्शन के 833 मामले अभी भी बकाया

श्रीगंगानगर. डिस्कॉम अफसरों की बैठक लेेते कलेक्टर। भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर किसानों को कृषि कनेक्शन...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 06:00 AM IST
श्रीगंगानगर. डिस्कॉम अफसरों की बैठक लेेते कलेक्टर।

भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

किसानों को कृषि कनेक्शन देने में विद्युत विभाग प्राथमिकता के आधार पर कार्य करें। सूरतगढ़ क्षेत्र में 33 केवी के पांच जीएसएस लगाने की कार्यवाही पूर्ण हो चुकी है तथा जल्द ही जीएसएस स्थापित कर दिए जाएंगे। किसानों को कृषि कनेक्शन देने में कोई विलंब नहीं होने चाहिए। विद्युत सुधार कार्यक्रम की समीक्षा बैठक में बुधवार को कलेक्टर ने निगम अधिकारियों को यह बात कही। निगम अधिकारियों ने बताया कि जिले में कृषि कनेक्शन के लगभग 883 प्रकरण शेष हैं। इसके अलावा ऐटा-सिंगरासर क्षेत्र में भी लगभग एक हजार विद्युत कनेक्शन दिए जाने हैं। ऐटा-सिंगरासर क्षेत्र में 223 विद्युत कनेक्शन दिए जा चुके हैं तथा 742 के डिमांड नोटिस जारी किए हैं। अनूपगढ़ क्षेत्र में 163, विजयनगर में 135, रायसिंहनगर में 17, श्रीगंगानगर क्षेत्र में 48 व सूरतगढ़ क्षेत्र में भी विद्युत कनेक्शन लम्बित हैं। कलेक्टर ने कहा कि गजसिंहपुर क्षेत्र में जिस किसान के खेत के लिये 47 पोल लगाकर कनेक्शन दिया जाना है, यह कार्य अधरझूल में है, इसलिए संबंधित कार्यकारी एजेंसी के विरुद्ध कार्यवाही की जाए। 132 केवी के तीन जीएसएस प्रभात नगर, खाट लबाना व पालीवाला में लगाए जाएंगे। बैठक में कार्यवाहक अधीक्षण अभियंता केके कस्वां, अधिशाषी अभियंता रायसिंहनगर अनिल सिंगल, जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता ताराचंद कुलदीप आदि उपस्थित थे।