राजाखेड़ा

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Rajakhera News
  • दो वर्ष बाद भी नहीं हो पाया भू रूपांतरण एसडीएम से शासन सचिव तक लगाई गुहार
--Advertisement--

दो वर्ष बाद भी नहीं हो पाया भू रूपांतरण एसडीएम से शासन सचिव तक लगाई गुहार

भास्कर संवाददाता | राजाखेड़ा नगर पालिका में जानबूझकर एक पीड़िता को परेशान किया जा रहा है। इसकी शिकायत पीड़िता...

Dainik Bhaskar

Feb 04, 2018, 06:40 AM IST
भास्कर संवाददाता | राजाखेड़ा

नगर पालिका में जानबूझकर एक पीड़िता को परेशान किया जा रहा है। इसकी शिकायत पीड़िता ने कलेक्टर को पत्र लिखकर की है। पीड़िता रश्मि जैन व मनोरमा देवी ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर बताया कि उन्होंने 30 मार्च 2016 को पालिका में अपने भूखंड को वाणिज्य प्रयोगार्थ रूपांतरण के लिए आवेदन किया था। इसके बाद 31 अगस्त को पालिका ने संपूर्ण जांच प्रक्रिया पूरी कर सार्वजनिक आपत्ति आमंत्रण समाचार पत्रों के माध्यम से भी कर दिया। जिस पर आज तक कोई आपत्ति दर्ज नहीं की लेकिन पालिका ने पत्रावली को कूड़े के ढेर में डाल दिया। येन केन प्रकारेण पीड़िता ने फाइल को पुनः तलाश की और आवेदन के साथ सवा साल बाद संपूर्ण रूपांतरण राशि भी 7 जुलाई 2017 को जमा करा दी जो प्रक्रिया का अंतिम चरण होता है लेकिन उसके बाद भी पट्टा आज तक जारी नहीं किया गया। दोनों का दिल प्रकरण से ज्यादा इस तथ्य से दुखी है कि कलेक्टर व पालिका अध्यक्ष भी महिला हैं।


हर स्तर पर गुहार

पीड़िता ने इस दौरान पालिका कार्यालय में पट्टा जारी करने के दर्जनों आवेदन दिए लेकिन सुनवाई ना होने पर उपखंड अधिकारी को भी शिकायत दर्ज कराई पर परिणाम ढाक के तीन पात रहा जिस पर पीड़िता ने जिला कलेक्टर को फरियाद की लेकिन नतीजा पुनः सिफर रहा जिस पर उन्होंने शासन सचिव, स्वायत्त शासन विभाग, शासन सचिव को भी प्रकरण की सूचना पत्रों के माध्यम से दी लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई जो निम्न स्तर से उच्च स्तर पर संवेदनहीनता को स्पष्ट परिलक्षित कर रहा है। पीड़ित ने राजस्थान संपर्क पोर्टल पर भी संपर्क किया पर सफलता नहीं मिली।

X
Click to listen..