• Home
  • Rajasthan News
  • Rajsamand News
  • सर्वसमाज के पदाधिकारी बोले-गोस्वामी परिवार के आपसी विवाद में मंदिर की प्रतिष्ठा हो रही धूमिल
--Advertisement--

सर्वसमाज के पदाधिकारी बोले-गोस्वामी परिवार के आपसी विवाद में मंदिर की प्रतिष्ठा हो रही धूमिल

राजसमंद| श्री पुष्टिमार्गीय तृतीय पीठ प्रन्यास प्रभु श्री द्वारकाधीश मंदिर कांकरोली के प्रभु द्वारकाधीश मंदिर...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:55 AM IST
राजसमंद| श्री पुष्टिमार्गीय तृतीय पीठ प्रन्यास प्रभु श्री द्वारकाधीश मंदिर कांकरोली के प्रभु द्वारकाधीश मंदिर के गोस्वामी परिवाद में संपत्ति विवाद को लेकर पिछले तीन साल से मंदिर की प्रतिष्ठा धूमिल हो रही है। हाल ही में गोस्वामी भाईयों ने पुरुषोत्तम मास के मनोरथ को लेकर भी अलग-अलग सूची जारी कर दी। इससे नगरवासी और वैष्णवजनों में रोष था। इस संबंध में साेमवार देर शाम को पुराने बस स्टैंड पर सर्व समाजजनों ने बैठक की। इसमें सभी ने एक स्वर में कहा कि गोस्वामी परिवार आपस में झगड़ रहे है जो गलत हो रहा है। बैठक में निर्णय लिया कि 22 अप्रैल को सर्व समाज के लोगों की फिर एक बड़ी बैठक कर आगामी रणनीति को लेकर चर्चा होगी। बैठक में यह निर्णय किया जाएगा कि गोस्वामी परिवार आपस में मिल बैठकर अपना विवाद सुलझाए नहीं तो जनता सड़कों पर उतरेगी और आंदोलन करेंगीं। बैठक में चर्चा की गई कि वल्लभ संप्रदाय की और भी पीठ है। वहां पर भी संपत्ति विवाद सामने आते है। लेकिन स्थानीय गोस्वामी परिवार जो आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे है ऐसा कहीं नहीं हो रहा। पिछले तीन सालों से गोस्वामी परिवार की आपसी खींचतान को लेकर प्रभु, वल्लभ संप्रदाय की छवि खराब हो रही है। समाजों के प्रतिनिधियों ने कहा कि आपसी विवाद को मंदिर में क्यों घसीटा जा रहा है। बैठक में मंदिर अधिकारी भगवतीलाल पालीवाल, मंदिर के ट्रस्टी कमल सिंह वर्मा भी थे। इन्होंने कहा कि पीठाधीश बृजेश कुमार इस मुद्दे को लेकर सकारात्मक है। वे मनोरथ की सूची में संशोधन करने को भी तैयार है। इधर, गोस्वामी परिवार के दूसरे पक्ष के पराग कुमार के प्रतिनिधि जयसिंह राणावत को भी बुलाया गया था। लेकिन व्यस्त होने के कारण वो नही आ सके। उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि गोस्वामी परिवार के इन भाईयों का भी हक है।

दो मनोरथ सूची जारी होने का मामला