• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Rajsamand News
  • दाना प्लांट में काम करते वक्त श्रमिक की मौत, हाथ के दस्ताने तक नहीं थे, चालू मशीन में फंस गए हाथ
--Advertisement--

दाना प्लांट में काम करते वक्त श्रमिक की मौत, हाथ के दस्ताने तक नहीं थे, चालू मशीन में फंस गए हाथ

राजसमंद/केलवा| क्षेत्र के जेतपुरा स्थित ग्रीसा एंड प्राइजेज दाना प्लांट में मंगलवार को सुरक्षा के अभाव में...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:05 AM IST
दाना प्लांट में काम करते वक्त श्रमिक की मौत, हाथ के दस्ताने तक नहीं थे, चालू मशीन में फंस गए हाथ
राजसमंद/केलवा| क्षेत्र के जेतपुरा स्थित ग्रीसा एंड प्राइजेज दाना प्लांट में मंगलवार को सुरक्षा के अभाव में श्रमिक की मौत हो गई। कच्चा माल मशीन में डालते समय श्रमिक का हाथ व शरीर मशीन में चला गया। इससे उसकी मौत हो गई। थानाधिकारी दीपककुमार ने बताया कि जेतपुरा स्थित दाना प्लांट में चांदपुरा कुचामन नागौर निवासी नेमाराम (35) पुत्र कानाराम जाट काम कर रहा था। इस दौरान मशीन पर लगे होपर में दाने का मलबा फंसा होने पर चालू मशीन में हाथ डालकर मलबा निकालने के प्रयास में हाथ मशीन में चला गया। मशीन चालू थी। इस कारण मशीन नेे नेमाराम को पूरी तरह खींच लिया। इससे नेमाराम का पूरा हाथ मशीन में फंस गया। साथी श्रमिक उसे बचाने का प्रयास भी नहीं कर पाए। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उल्लेखनीय है कि ग्रीसा दाना प्लांट की शुरुआत 15 दिन पहले ही हुई थी। नेमाराम एक माह पूर्व ही यहां काम करने के लिए आया था। पुलिस ने फैक्ट्री मालिक के खिलाफ श्रम एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

प्लांट पर सुरक्षा के इंतजाम नहीं, श्रमिकों ने जताया रोष

क्षेत्र में लगी कई व्यवसायिक इकाइयों पर करोड़ों रुपए की लागत लगती है, लेकिन यहां श्रमिकों की सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है। श्रम विभाग व्यवसायिक इकाइयों में श्रमिकों की सुरक्षा के लिए जरूरी नियमों की पालना करवाने की दिशा में काम नहीं कर रहा है। कई प्लांटों पर श्रमिकों की सुरक्षा के लिए उन्हें हाथ के दस्ताने व उपकरण तक नहीं दे रखे हैं। इसी तरह पाउडर प्लांटों पर भी श्रमिकों को मुंह पर बांधने के लिए मास्क नहीं दिए जाते हैं। पाउडर इतना बारिक होता है कि यह मुंह, नाक के जरिये से शरीर में चला जाता है। इससे सिलिकोसिस बीमारी होने का खतरा रहता है।

केलवा। हादसे के बाद मौके पर जमा भीड़।

छह सौ से ज्यादा पाउडर प्लांट, 30 दाना प्लांट, सुरक्षा के इंतजाम नहीं

जिले में 6 सौ से ज्यादा पाउडर प्लांट व 30 दाना प्लांट हैं। इनमें करीब तीन से चार हजार श्रमिक काम करते हैं। लेकिन सुरक्षा के अभाव में आए दिन हादसे होते रहते हैं। श्रमिकों की सुरक्षा को लेकर प्लांट मालिक किसी भी प्रकार के सुरक्षा उपकरण श्रमिकों को उपलब्ध नहीं करवाते हैं। सुरक्षा के अभाव में कई श्रमिकों की मौत होने पर पुलिस सामान्य मौत के मामले दर्ज कर आगे की कार्रवाई नहीं करती है।

X
दाना प्लांट में काम करते वक्त श्रमिक की मौत, हाथ के दस्ताने तक नहीं थे, चालू मशीन में फंस गए हाथ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..