हेयर ट्रांसप्लांट से पा सकते हैं कुदरती बाल, जो बढ़ते हैं प्राकृतिक रूप से : डॉ. प्रशांत

Rajsamand News - राजसमंद | डर्मेटोलॉजिस्ट और हेयर ट्रांसप्लांट सर्जन डॉ. प्रशांत अग्रवाल ने कहा कि महिलाओं और 50 पार पुरुषों में...

Jan 29, 2020, 10:11 AM IST
Nathdwara News - rajasthan news hair transplant can get natural hair which grows naturally dr prashant
राजसमंद | डर्मेटोलॉजिस्ट और हेयर ट्रांसप्लांट सर्जन डॉ. प्रशांत अग्रवाल ने कहा कि महिलाओं और 50 पार पुरुषों में होने वाली हेयर फॉल की आम समस्या अब किशोरों-युवाओं को गिरफ्त में लेने लगी है। प्रमुख कारण- गलत हेयर कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल, डायबिटीज-थायराइड जैसी बीमारियां, बढ़ते पिज्जा-बर्गर कल्चर के कारण पोषक तत्वों से दूर होना, मानसिक तनाव और इंटरनेट के अधूरे ज्ञान से सेल्फ मेडिकेशन। युवाओं के लिए तकलीफ ज्यादा है, क्योंकि यह स्थिति उनका आत्मविश्वास निगल रही है। अब फोलिक्यूलर यूनिट एक्सट्रेक्शन यानी एफयूई एडवांस तकनीक से कुदरती बाल पाए जा सकते हैं। संयमित और पोषण युक्त खान-पान, खुद को स्ट्रेस फ्री रखने, अच्छी नींद तो आरंभिक निदान हैं ही, एक्सपर्ट डॉक्टर से परामर्श भी जरूरी है। डॉ. अग्रवाल भास्कर नॉलेज सीरीज के तहत मंगलवार को नाथद्वारा के पास उपली ओडन स्थित मिराज ऑडिटोरियम में वर्कशॉप को संबोधित कर रहे थे। बड़ी संख्या में फ्री रजिस्ट्रेशन के चलते तीन बैच में वर्कशॉप चली।

टॉवेल-कंघी पर बाल दिखते ही हो जाएं सावधान, डायग्नोस करवाएं ताकि समय रहते शुरू हो ट्रीटमेंट : डॉ. अग्रवाल ने बताया कि हेयर लॉस बहुत जल्दी गंजेपन में तब्दील हो जाता है। इसकी शुरुआत नहाते या कंघी करते समय होती है। सामान्य से ज्यादा बाल झड़ रहे हैं, तो तुरंत डॉक्टर से मिलें। गंजेपन या बाल्डनेस के संकेत मिलते ही अमूमन लोग इंटरनेट पर समाधान तलाशते हैं। उन्हें सामान्य निदान मिलते हैं। लेकिन हकीकत यह है कि इंटरनेट की जानकारियां अनुभव और अलग-अलग परिस्थितियों में कुछ लोगों के इलाज में मिली सफलता पर आधारित होता है।

डाॅ. प्रशांत अग्रवाल

राजसमंद. दैनिक भास्कर नॉलेज सीरीज कार्यशाला में मौजूद शहर के लोग।

आमजन ने किए सवाल, जवाबों से दूर हुई भ्रांतियां

सवाल : गंजेपन का उपचार कैसे और कब होता है?

जवाब : सामान्य से ज्यादा बाल झड़ रहे हैं, तो तुरंत डॉक्टर से मिलें। वही बता पाएगा कि बदलाव वंशानुगत है या पोषक तत्व की कमी का नतीजा है।

सवाल : हेयर ट्रांसप्लांट की जरूरत कब होती है?

जवाब : हेयर फॉल का कारण पर्सनल और फैमिली हिस्ट्री में छिपा होता है। विशेषज्ञ ही ट्रांसप्लांट की जरूरत बता सकता है।

सवाल : क्या इसके भी साइड इफेक्ट हैं?

जवाब : साइड इफेक्ट तभी होंगे, जब विशेषज्ञ की देखरेख में उपचार न हो। एक्सपर्ट तो जरूरत के मुताबिक आपका उपचार करेगा।

सवाल : क्या रिजल्ट परमानेंट है?

जवाब : इलाज के परिणाम उपचार के बाद निर्धारित दवाइयों के नियमित इस्तेमाल और एहतियात बरतने पर स्थायी है।

Nathdwara News - rajasthan news hair transplant can get natural hair which grows naturally dr prashant
Nathdwara News - rajasthan news hair transplant can get natural hair which grows naturally dr prashant
X
Nathdwara News - rajasthan news hair transplant can get natural hair which grows naturally dr prashant
Nathdwara News - rajasthan news hair transplant can get natural hair which grows naturally dr prashant
Nathdwara News - rajasthan news hair transplant can get natural hair which grows naturally dr prashant
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना