टाइगर प्रोजेक्ट के विराेध में की सभाएं

Rajsamand News - राजसमंद/ भीम | देवगढ़ क्षेत्र में पूर्व मंत्री डाॅ. लक्ष्मण सिंह रावत के नेतृत्व में विजयपुरा, बाघाना, बरजाल,...

Oct 12, 2019, 08:26 AM IST
राजसमंद/ भीम | देवगढ़ क्षेत्र में पूर्व मंत्री डाॅ. लक्ष्मण सिंह रावत के नेतृत्व में विजयपुरा, बाघाना, बरजाल, खीमाखेड़ा, छापली, दिवेर, नरदास का गुड़ा, कालागुमान, स्वादड़ी, कुंवाथल अाैर जीरण पंचायतों क्षेत्र में रावली टाॅडगढ़ वन्य अभयारण्य को टाइगर प्रोजेक्ट से जाेड़ने का विरोध तेज हो गया। जन जागरण समिति ने बरजाल, खीमाखेड़ा, छापली अाैर दिवेर पंचायतों में सभाएं की। सभा में लाेगाें ने आक्रोश जताया कि हम किसी भी कीमत पर इस वन क्षेत्र में बाघ नहीं छाेड़ने देंगे। लोगों ने इस अभयारण्य की सीमाओं में नागरिक आबादी वाले राजस्व गांवों को भी शामिल किए जाने पर कड़ी नाराजगी जताई। सभा में समिति के प्रधान संरक्षक पूर्व मंत्री डाॅ. लक्ष्मण सिंह रावत ने बताया कि टाॅडगढ़ रावली अभयारण्य में मारवाड़ क्षेत्र के किसी भी गांव को शामिल नहीं किया। जबकि भीम-देवगढ़ क्षेत्र की 11 पंचायतों के अधिकांश गांव इस अभयारण्य में जोड़े गए। यह वन क्षेत्र कहीं-कहीं पर तो केवल चार किलोमीटर ही चाैड़ा है जो कि बाघों को इस वन क्षेत्र में छोड़े जाने की दृष्टि से मापदंड में नही आता है। टाइगर प्रोजेक्ट से पशुओं का जीवन खतरे में पड़ जाएगा। सभा में रूपाराम सालवी, रावत-राजपूत महासभा के अध्यक्ष भगवानसिंह चाैहान, गिरधारीसिंह बरजाल, चन्दनसिंह, नाहरसिंह, भाटियों की भागल, सरपंच जवानसिंह ने विचार रखे।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना