Hindi News »Rajasthan »Ramgarh» आर्थिक उपयोगिता बताए बिना गोवंश को बचाना बेमानी : महापात्र

आर्थिक उपयोगिता बताए बिना गोवंश को बचाना बेमानी : महापात्र

रामगढ़ | गोवंश के संवर्धन के लिए रामगढ़ कस्बे में गोजप मंत्र का शुभारंभ शनिवार को किया गया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 05:55 AM IST

आर्थिक उपयोगिता बताए बिना गोवंश को बचाना बेमानी : महापात्र
रामगढ़ | गोवंश के संवर्धन के लिए रामगढ़ कस्बे में गोजप मंत्र का शुभारंभ शनिवार को किया गया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ व अखिल भारतीय गोसेवा सह प्रमुख अजीत प्रसाद महापात्र के सानिध्य में कस्बे की अग्रवाल धर्मशाला में गणेश वंदना के साथ इस महायज्ञ का शुभारंभ किया गया। अपने उद्बोधन में अजीत प्रसाद महापात्र ने कहा कि विगत 25 वर्षों में देश में गोसेवा का भाव कम हो चला है। गोवंश की आर्थिक महत्वता पहचाने बिना इसकी रक्षा करने का भाव रखना अाज के परीपेक्ष्य में बेमानी सा प्रतीत होता है। जब से देश में गोवंश को माता की तरह नहीं मान पशु की तरह मानना शुरू किया है तब से 33 करोड़ देवी-देवताओं का वास रखने वाली गोमाता बेचारी हो गई है। महापात्र ने बताया कि गाय के दूध से भी बढ़कर इसका मूत्र व गोबर है। अनुष्ठान में उपजिला कलक्टर संजय शर्मा, कृषि उपज मंडी अलवर सचिव विष्णुदत्त शर्मा व रामगढ़ कस्बा सरपंच भी पहुंचे। अतिथि उद्बोधन के बाद गोजप मंत्र श्री सुरभ्यै नम: जाप का संकल्प करवाते हुए पं. विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि 15 अप्रेल तक सामूहिक रूप से चलने वाले गोजप मंत्र के 15 करोड़ जाप के बाद निर्मित दिव्य वातावरण में रामगढ़ क्षेत्र के 51 गांवों में संकट मोचन गोबरिया हनुमान प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। वहीं इससे पूर्व 10 अप्रेल से भागवत कथा वाचन व 17 अप्रेल को गोनंदी विवाह का आयोजन रामगढ़ की धरा पर किया जाएगा। शनिवार को आयोजित इस धार्मिक आयोजन के दौरान गोनंदी संरक्षण समिति के नवल किशोर मिश्रा, सरपंच संघ के अध्यक्ष देवेंद्र दत्ता, निर्मल सूरा, संतोष चौधरी, बाबूलाल प्रजापति, पन्नी प्रजापति, सूर्य स्वरूप, हेतराम शर्मा, महावीर शर्मा व दीवान चन्द कूडावला सहित सैकडों गोभक्त व धर्मप्रेमी मौजूद रहे।

रामगढ़. गाेजप महायज्ञ का शुभारंभ करते अतिथि।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ramgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×