रामगढ़

--Advertisement--

परंपरागत वोट बचाने में कामयाब रही कांग्रेस

कांग्रेस ने एक बार फिर बड़ी जीत राजगढ़-लक्ष्मणगढ़ विधानसभा क्षेत्र में दर्ज की है। कांग्रेस ने यहां से 49 हजार 164...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:40 AM IST
कांग्रेस ने एक बार फिर बड़ी जीत राजगढ़-लक्ष्मणगढ़ विधानसभा क्षेत्र में दर्ज की है। कांग्रेस ने यहां से 49 हजार 164 वोटों की लीड ली है। इस विधानसभा क्षेत्र में मेव, मीणा, माली, एससी व ब्राह्मण अधिक हैं। कांग्रेस अपने परंपरागत वोट बैंक मेव, मीणा एवं एससी को अपने पक्ष में करने में कामयाब रही। माली समाज के वोट पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कारण कांग्रेस की तरफ मुड़ गए। भाजपा ने आखिरी समय तक मीणा वोट बैंक में सेंध मारने की कोशिश की। मीणाओं को यह कहकर भी भ्रमित करने का प्रयास किया कि अगर कांग्रेस चुनाव जीतती है तो प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट मजबूत होंगे। सचिन मुख्यमंत्री बने तो आरक्षण पर आंच आ सकती है। ऐसे भ्रामक प्रचारों का मीणा मतदाताओं पर कोई खास असर दिखाई नहीं दिया। इस विधानसभा में कम वोटिंग का भी कांग्रेस को नहीं बल्कि भाजपा को नुकसान पहुंचा। क्षेत्र के कस्बों में कम वोटिंग हुई। ऐसे में माना जा रहा है कि भाजपा का मतदाता वोट देने नहीं आया। इस क्षेत्र में भाजपा का कोई विधायक नहीं है। भाजपा की यहां लीडरशिप की कमजोरी का भी कांग्रेस ने फायदा उठाया। राजपा की गोलमा देवी यहां से विधायक हैं। चार साल में विकास नहीं होने से भी लोगों में नाराजगी थी। कांग्रेस से पूर्व विधायक जौहरीलाल मीणा की भी इस इलाके में अच्छी पकड़ रही है। राजघराने का भी इस क्षेत्र में प्रभाव रहा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह भी चुनाव के दौरान इलाके में काफी सक्रिय रहे।

विधानसभा समीक्षा

राजगढ़-लक्ष्मणगढ़ में कांग्रेस को मिली 49 हजार 164 वोटों की बढ़त

रामगढ़ : धर्म के आधार पर नहीं बंटे मतदाता

रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र की जनता ने इस बार कांग्रेस को भरपूर वोट दिया। आठ विधानसभाओं में दूसरे नंबर पर सबसे बड़ी जीत कांग्रेस ने इसी विधानसभा में दर्ज की है। कांग्रेस प्रत्याशी डॉ.करण सिंह यादव ने यहां से 35 हजार 996 वोट की जीत दर्ज की है। पिछले चुनावों की बात करें तो यह ऐसा विधानसभा क्षेत्र रहा है जहां हिंदू और मुस्लिम के नाम पर नेता चुनाव में वोटों का ध्रुवीकरण करने में कामयाब हुए तो भाजपा को जीत मिलती है। इस बार ऐसा नहीं होने से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ.करण सिंह यादव को सभी जातियों का वोट मिला। इस विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक मतदाता मेव, एससी, माली, गुर्जर, जाट व ब्राह्मण हैं। क्षेत्र में विकास कार्य नहीं होने से यहां की जनता की सरकार और क्षेत्रीय विधायक से नाराजगी थी। इसका कांग्रेस को फायदा मिला। रही सही कसर नौगांवा का कृषि अनुसंधान केंद्र बंद करके सरकार ने पूरी कर दी। क्षेत्र में कृषि विश्वविद्यालय व कृषि मंडी की लंबे समय से मांग होती रही है। यहां कृषि विश्वविद्यालय तो खुला नहीं उलटे चुनाव के दौरान नौगांवा का कृषि अनुसंधान केंद्र ही सरकार ने बंद करने का फैसला ले लिया। मतदान से पहले मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बड़ौदामेव में जनसभा की। जनसभा में भीड़ भी खूब जुटी, लेकिन यह भीड़ वोटों में तब्दील नहीं हो पाई।

X
Click to listen..