रानी

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Rani News
  • सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में नगर परिषद, फिर भी चोरी हो रही फाइलें, 3 माह में आयुक्त ने दर्ज करवाया दूसरा मुकदमा
--Advertisement--

सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में नगर परिषद, फिर भी चोरी हो रही फाइलें, 3 माह में आयुक्त ने दर्ज करवाया दूसरा मुकदमा

नगर परिषद से फाइलें चोरी होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। तीन माह के दौरान कोतवाली में अब दूसरा मुकदमा दर्ज...

Dainik Bhaskar

Mar 29, 2018, 06:40 AM IST
नगर परिषद से फाइलें चोरी होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। तीन माह के दौरान कोतवाली में अब दूसरा मुकदमा दर्ज करवाया गया है। पूर्व में भी नगर परिषद से स्वच्छ भारत मिशन, पट्टों समेत कई निर्माण कार्यों की 1 हजार से अधिक फाइलें गायब होने का मामला उठा था। इन फाइलों का अभी अभी तक कोई अता-पता नहीं है। नगर परिषद के अधिकारियों व कर्मचारियों की मिलीभगत से गुम हो रही फाइलों का खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। केंद्र व राज्य सरकार की ओर से भले ही हर कार्य में पारदर्शिता लाने के निर्देश के बावजूद भी शहरवासियों को अपने कार्यों की फाइलों को ढूंढने और कार्य पूर्ण करवाने के लिए चक्कर लगाने पड़ रहे हैं।

तीन माह में आयुक्त ने कोतवाली में दर्ज करवाया दूसरा मुकदमा : नगर परिषद आयुक्त इंद्रसिंह राठौड़ ने कोतवाली में नगर परिषद कार्यालय से भूखंड का आवंटित पत्रावली ले जाने का मामला दर्ज करवाया है। हालांकि यह मामला आयुक्त ने अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज करवाया है। हकीकत यह है कि नगर परिषद परिसर में 50 से अधिक एजेंट अलग-अलग कार्य कर रहे हैं। इसकी जानकारी सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को होने के बावजूद भी कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है।



तीन माह पूर्व भी आयुक्त ने अज्ञात के खिलाफ निर्माण कार्य से जुड़ी पत्रावली चोरी होने का मुकदमा दर्ज करवाया था।

पहले निर्माण कार्य, अब भूखंड आवंटन की फाइल चोरी- 6 माह से गुम फाइल, नगर परिषद आयुक्त ने दर्ज करवाया अज्ञात चाेरों के खिलाफ मुकदमा

6 माह तक चक्कर कटाते रहे, फाइल नहीं मिली तो दर्ज करवाया मुकदमा

आदर्श नगर निवासी भंवरलाल पुत्र बाबूलाल श्रीमाली ने छह माह पूर्व यानि 8 सितंबर 2017 को नगर परिषद में आयुक्त को पत्र सौंपकर भूखंड संख्या 216 में जारी किए गए पट्टे का शुद्धिपत्र जारी करने का निवेदन किया। आयुक्त इंद्रसिंह राठौड़ ने भूखंड संख्या 216 की पूरी फाइल ढूंढने और पट्टे का शुद्धिपत्र जारी करने के निर्देश दिए, लेकिन छह माह तक नगर परिषद कर्मचारी व अधिकारी पट्टे की फाइल नगर परिषद मेें ढूंढते रहे। यहां तक प्रार्थी को भी उचित जवाब नहीं दिया गया। अंतत: फाइल नहीं मिलने पर आयुक्त राठौड़ कोतवाली में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है।

हर जगह सीसी टीवी कैमरे और पूरी मॉनिटरिंग का दावा, फिर भी चोरी हो रही फाइलें

नगर परिषद में हर कार्य को सुगमता के साथ करने और सभी कर्मचारियों व अधिकारियों की मॉनिटरिंग के लिए दावा किया जाता है कि जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगा रखे हैं। यहां तक कि हर कार्य की जानकारी देने के लिए संबंधित अधिकारी के मोबाइल नंबर भी अंकित हैं। बावजूद इसके कई जगहों पर कैमरों की दिशा बदली हुई है। एजेंट अधिकारियों व कर्मचारियों के चैंबर में जाकर काम करवा रहे हैं।

नगर परिषद में एजेंटों का जमावड़ा, अधिकारियों से ज्यादा एजेंट करते हैं काम

नगर परिषद निर्माण कार्य से लेकर भूखंड आवंटित, हस्तांतरण समेत कई कार्यों के एजेंट घूम रहे हैं। नगर परिषद के अधिकारियों व कर्मचारियों को इसकी जानकारी होने के बावजूद भी न तो कोई कार्रवाई हो रही है और न ही इस पर लगाम कसी जा रही है। खास बात यह है कि अधिकारियों व कर्मचारियों से ज्यादा एजेंट काम कर रहे हैं। आमजन को किसी भी कार्य के लिए एजेंटों के चक्कर भी काटने पड़ रहे हैं। सूत्रों के अनुसार कुछ दिन पूर्व नगर परिषद आयुक्त के पास कृषि भूमि हस्तांतरण व पट्टे आवंटन की फाइलों पर ठप्पा लगाने का कार्य एजेंट द्वारा करने की शिकायत भी मिली थी। हालांकि शिकायत के बाद उसे वहां से हटा दिया गया, लेकिन जब अधिकारियों व कर्मचारियों को एजेंटों की पूरी जानकारी होने के बावजूद भी कोई कार्रवाई नहीं हो पा रही है।

पट्टे सहित अन्य प्रकरणों की सैकड़ों फाइलें हैं जो नहीं मिल रही, ये दो मामले तो सिर्फ कागजी कार्रवाई के लिए

नगर परिषद में बीते तीन माह में दो फाइलें चोरी होने के मामले कोतवाली थाने में दर्ज करवाए गए हैं। तीन माह पहले निर्माण कार्य से जुड़ी एक फाइल चोरी होने का मामला दर्ज करवाया था, अब भूखंड आवंटन की पत्रावली चोरी हो गई है। नगर परिषद के कार्मिकों की मानें तो ये भी कागजी कार्रवाई के लिए ही है। नगर परिषद में पट्टों से लेकर अन्य कार्यों की ऐसी सैकड़ों फाइलें हैं जाे गुम हैं। शहरवासी चक्कर काटते रहते हैं।

दर्ज करवाया है मुकदमा


X
Click to listen..