Hindi News »Rajasthan »Rani» रानी गांव में 20 दिनों में युवाओं व ग्रामीणों ने 3 लाख जुटा गांव में 10 स्थानों पर लगाई इंटीग्रेटेड साेलर लाइट

रानी गांव में 20 दिनों में युवाओं व ग्रामीणों ने 3 लाख जुटा गांव में 10 स्थानों पर लगाई इंटीग्रेटेड साेलर लाइट

जिले के रानी गांव में जहां 60 साल से रोड लाइटें नहीं थीं, जहां के युवाओं और ग्रामीणों ने पहल करते हुए महज 20 दिन में 3 लाख...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 27, 2018, 06:45 AM IST

जिले के रानी गांव में जहां 60 साल से रोड लाइटें नहीं थीं, जहां के युवाओं और ग्रामीणों ने पहल करते हुए महज 20 दिन में 3 लाख से अधिक रुपए की राशि शामिल की और 10 से अधिक स्थानों पर साेलर लाइटें लगवाई। जिले में पहली बार इंटीग्रेटेड सोलर लाइटें हैं जिसमें बैट्री, पैनल और लाइट तीनों एक साथ है। दरअसल, रानी गांव में रोड लाइट नहीं होने की वजह से ग्रामीणों को परेशानी देखनी पड़ती थी। होली पर हाईकोर्ट अधिवक्ता रिपुदमन सिंह ने पहल करते हुए राजपुरोहित युवा संगठन और सुरेश सिंह, हरीश सिंह, रूप सिंह और मोहन सिंह के साथ मिलकर गांव में सोलर लाइटें लगवाने का निर्णय लिया। इस पर 20 दिनों में युवाओं और ग्रामीणों ने 3 लाख 40 हजार रुपए शामिल कर इंटीग्रेटेड सोलर लाइटों से गांव को रोशन कर दिया। अब गांव के मुख्य चौक और मोहल्ले में यह लाइटें लगवाई गई है जहां कई सालों से रोड लाइटेंं तक नहीं थीं।

रिपुदमन सिंह राजपुरोहित

रिपुदमन सिंह राजपुरोहित

हाइकोर्ट अधिवक्ता रिपुदमन सिंह व राजपुरोहित युवा संगठन की पहल पर गांव के 120 लोगों ने सोलर लाइट के लिए जुटाई राशि

गांव में कई साल से रोड लाइट नहीं थी। होली पर शामिल हुए युवाओं ने इसे अपने खर्चे पर लगाने का निर्णय लिया। क्योंकि, हम भी गांव में रहते हैं तो कुछ जिम्मेदारी हमारी भी है। इसलिए 20 दिनों में ही 3 लाख 40 हजार रुपए शामिल किए और आधुनिक सोलर लाइटें लगवाई हैं। - रिपुदमन सिंह, अधिवक्ता, राजस्थान हाइकोर्ट, जोधपुर

गाजियाबाद से मंगवाई इंटीग्रेटेड सोलर लाइटें

ग्रामीणों ने यह सोलर लाइटें गाजियाबाद की एक कंपनी से मंगवाई है। यह सोलर लाइट सरकार की ओर से लगने वाली लाइटों से काफी अलग और बेहतर है। इन इंटीग्रेटेड सोलर लाइटों में बैट्री, पैनल और लाइट तीनों एक साथ है, जबकि अन्य लाइटों में इन सभी के अलग-अलग चैंबर होते हैं। वहीं बैट्री और पैनल की 30 साल की गारंटी है और 32 वॉट लाइट की दो साल की।

एक सकारात्मक सोच से गांव के मुख्य चौराहे और चौक हुए रोशन

युवाओं और ग्रामीणों की सोच पर से 60 सालों बाद गांव के मुख्य चौराहे और चौक रोशन हुए। बिना सरकारी मदद के ग्रामीणों ने अपने जेब से रुपए खर्च कर मेला चौक, खेतेश्वर चौक, राजपुरोहित बास समेत गांव में 10 स्थानों पर सोलर लाइटें लगवा एक पहल की है। इन आधुनिक लाइटों और रानी गांव के युवाओं की पहल को केंद्रीय राज्यमंत्री पीपी चौधरी ने भी सराहना की।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rani

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×