रानी

--Advertisement--

शेरशाह सूरी की सेन

सुमेल के पूर्व ठाकुर की प|ी 6 माह से लापता, गढ़ का एक हिस्सा खरीदने का दावा कर रहे युवक ने दर्ज कराया रिश्तेदारों पर...

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2018, 06:55 AM IST
शेरशाह सूरी की सेन
सुमेल के पूर्व ठाकुर की प|ी 6 माह से लापता, गढ़ का एक हिस्सा खरीदने का

दावा कर रहे युवक ने दर्ज कराया रिश्तेदारों पर हत्या की आशंका का मुकदमा


शेरशाह सूरी की सेना के साथ 1544 में हुए ऐतिहासिक गिरी सुमेल युद्ध के इतिहास से जुड़े सुमेल गांव के गढ़ की संपत्तियों को लेकर चल रहे विवाद में नया पेंच आया है। चूरू निवासी एक युवक ने रास थाने में तीन माह पहले इस्तगासे के माध्यम से रिपोर्ट दर्ज कराई है कि सुमेल के पूर्व ठाकुर स्व. हनुवंतसिंह की प|ी श्रीमती बृजेंद्र कुमार का उनके रिश्तेदारों व अन्य लोगों ने संपत्ति हड़पने की नीयत से अपहरण कर लिया है। युवक ने श्रीमती बृजेंद्र कुमार की हत्या की आशंका भी जताई है। तीन माह पहले दर्ज मामले को इतने दिन पुलिस भी दबाए बैठी रही। अब रास थाना पुलिस का कहना है कि वह श्रीमती बृजेंद्र कुमार को ढूंढने का प्रयास कर रही है लेकिन वह नहीं मिली। पुलिस ने उनके मिलने के संभावित ठिकानों पर तलाश भी की है। इधर, युवक का दावा है कि उसने श्रीमती बृजेंद्र कुमार से उनके स्वामित्व का गढ़ का एक हिस्सा खरीदा है। इसी संपत्ति पर कब्जा करने की नीयत से उनका अपहरण किया गया है। तीन माह में पुलिस श्रीमती बृजेंद्र की तलाश के लिए उदयपुर व भीलवाड़ा में उनके संभावित ठिकानों के साथ पाली, अजमेर, उदयपुर व भीलवाड़ा समेत प्रदेश के कई वृद्धा आश्रमों में भी जाकर आई, लेकिन उनका कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस का कहना है कि लापता पूर्व महारानी का पता लगाने के प्रयास चल रहे है, जिनके मिलने के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा। चूरू जिले के लोहासन निवासी अजयसिंह राठौड़ पुत्र प्रतापसिंह की ओर से कोर्ट के जरिए इस्तगासा 8 दिसंबर, 2017 को रास थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसने सुमेल की श्रीमती बृजेंद्र कुमार से सुमेल गढ़ में दक्षिण का हिस्सा खरीदा है। उस हिस्से की संपत्ति विवाद का मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इस मामले में 23 अगस्त, 2017 को श्रीमती बृजेंद्र को कोर्ट में हाजिर होना था। रिपोर्ट में बताया कि 5 अगस्त, 2017 को वह सुमेल गढ़ पहुंचा तो उसे पता लगा कि वह वहां नहीं है। उसके द्वारा खरीद की गई संपत्ति हड़पने की मंशा से आरोपियों ने उनका अपहरण कर लिया। आशंका है कि उनकी हत्या कर दी हो।

श्रीमती बृजेंद्र

3 माह से नहीं मिल रही पुलिस को भी, पुलिस का दावा उसने संभावित ठिकानों व कई जिलों के वृद्धाश्रमों में ढूंढा

चूरू के युवक का सुमेल गढ़ का एक हिस्सा खरीदने का दावा

चूरू निवासी युवक अजयसिंह राठौड़ का दावा है कि उसने पूर्व ठाकुर स्व. हनुवंतसिंह की प|ी बृजेंद्र कुमार से उनके स्वामित्व का सुमेल गढ़ का एक हिस्सा खरीदा था। इस संपत्ति को श्रीमती बृजेंद्र कुमार के रिश्तेदार हड़पना चाहते हैं।

तलाश के लिए फिर से टीमें भेजी जाएगी-एसएचआे

पहले पुलिस ने भी संपत्ति विवाद बताकर कोर्ट के आदेश पर दर्ज किया मामला

अजयसिंह ने दर्ज कराई रिपोर्ट में आरोप लगाया है कि अगस्त में वह सुमेल पहुंचा तो उसे पता चला कि श्रीमती बृजेंद्र कुमार वहां नहीं है। वह रास थाने पहुंचा तो पुलिस ने मामला दर्ज करने से इन्कार कर दिया। इस पर उसने 8 दिसंबर को इस्तगासे से मामला दर्ज कराया। पुलिस का दावा है कि वह तीन माह से ढूंढ रही है लेकिन अब तक श्रीमती बृजेंद्र कुमार का पता नहीं चला।


करीबी रिश्तेदारों सहित 7 के खिलाफ मामला

रिपोर्ट में आरोप लगाया है कि श्रीमती बृजेंद्र कुमार के रिश्तेदार उनकी संपत्ति हड़पना चाहते हैं। इसी नीयत से उन्होंने उनका अपहरण करवा लिया। आशंका है कि हत्या करवा दी हो और इल्जाम उसके माथे मढ़ दिया जाए।

संपत्ति का चल रहा है विवाद, अगस्त 2007 में भी दर्ज कराया था मामला

रिपोर्ट में बताया गया है कि पूर्व महारानी ने 11 अगस्त, 2007 को सेंदड़ा थाने में अपने रिश्तेदारों के खिलाफ कूट रचित दस्तावेज तैयार कर संपत्ति हड़पने के आरोप में मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने मामले की जांच के बाद केस में एफआर पेश की। इसका विरोध करते हुए पूर्व महारानी ने कोर्ट में प्रोटेस्ट पिटिशन दायर की थी। तब कोर्ट ने पुलिस को दुबारा अनुसंधान के आदेश दिए थे। इसके बाद पूर्व महारानी ने 5 सितंबर,2011 को इन्हीं रिश्तेदारों पर जाली दस्तावेज बना संपत्ति हड़पने का एक और मामला सेंदड़ा में दर्ज कराया, जिसमें पुलिस ने सुमेल निवासी प्रतापसिंह व उसकी प|ी निर्मल कंवर को आरोपी बनाते हुए कोर्ट में चार्जशीट पेश की, जो मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

X
शेरशाह सूरी की सेन
Click to listen..