Hindi News »Rajasthan »Rani» नाडोल में शादी समारोह में रसमलाई खाने से 300 से ज्यादा बारातियों की तबीयत बिगड़ी

नाडोल में शादी समारोह में रसमलाई खाने से 300 से ज्यादा बारातियों की तबीयत बिगड़ी

पाली | एक शादी समारोह में फूड पॉइजनिंग होने पर बांगड़ अस्पताल में भर्ती मरीज। फोटो|भास्कर पाली में भी शादी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 22, 2018, 05:00 AM IST

नाडोल में शादी समारोह में रसमलाई खाने से 300 से ज्यादा बारातियों की तबीयत बिगड़ी
पाली | एक शादी समारोह में फूड पॉइजनिंग होने पर बांगड़ अस्पताल में भर्ती मरीज। फोटो|भास्कर

पाली में भी शादी समारोह में तांबे के बर्तन में तैयार केरी पानी पीने से 50 लोग हुए बीमार

अस्पताल में बेड कम पड़ने से रानी व जवाली के चिकित्सालयों में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया

भास्कर संवाददाता | पालीदेसूरी

जिले के नाडोल कस्बे में शुक्रवार देर रात को एक शादी समारोह में फूड पॉयजनिंग से दूल्हा-दुल्हन सहित 300 से ज्यादा लोग बीमार हो गए। इन सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। अचानक बीमार इतने लोगों के साथ आने से नाडोल अस्पताल में बेड कम पड़ गए। कुछ लोगों को रानी व जवाली रेफर किया गया। अब सभी की हालत ठीक बताई जा रही है तथा छुट्टी दे दी है। वहीं सादड़ी चिकित्सालय से भी डॉक्टर की टीम उपचार के लिए नाडोल पहुंची, जहां सभी बीमार लोगों का उपचार किया गया। वहीं फूड पॉयजनिंग किसके खाने से हुई। इसका खुलासा अभी तक नहीं हो पाया है। मगर लोगों का कहना है कि अधिकांश की तबीयत रसमलाई खाने से बिगड़ी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नाडोल निवासी मगाराम पुत्र दूदापुरा चौधरी की पुत्री की शादी थी और नारलाई से मूलाराम पुत्र मोतीलाल सीरवी के पुत्र की बारात आई हुई थी। शुक्रवार की शाम शादी में मेहमानों व रिश्तेदारों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई थी। जिन्होंने शादी में बनाए गए विभिन्न भोजन को ग्रहण किया। उसके बाद रात 1.30 बजे अचानक एक के एक बाद शादी में शामिल लोगों की तबीयत बिगड़ना शुरू हो गई। इसके बाद शादी समारोह में अफरा-तफरी मच गई। वहीं बीमार लोगो को चिकित्सालय ले जाने के लिए वाहन कम पड़ गए। बीमार लोगों को जैसे-तैसे नाडोल चिकित्सालय में लाया गया मगर वहां पर बेड कम पड़ गए। ऐसे में कुछ मरीजों को उपचार के लिए रानी और जवाली भेजा गया। वहीं नाडोल में मरीजों की अधिक संख्या को देख सादड़ी चिकित्सालय से डॉक्टरों की टीम को नाडोल बुलाया गया। उसके बाद फूड पॉयजनिंग पीडि़त लोगों का डॉ.अनिल बोड़ा नाडोल,डॉ.राजेंद्र पूनमिया सादड़ी व चिकित्साकर्मियों ने उपचार शुरू किया। सूचना मिलने पर सरपंच यशोदा वैष्णव व नारलाई सरपंच दौलत चौधरी अस्पताल पहुंचे तथा बीमार लोगों से मिले। वहीं नाडोल चिकित्सालय में 160, रानी चिकित्सालय में 45 और जवाली में 10 फूड पॉयजनिंग से गंभीर रूप से बीमार लोगों को उपचार के लिए भर्ती किया गया। शेष बीमार लोगों को दवाइयां देकर उनका प्राथमिक उपचार कर उसी समय छुट्टी दे दी। वहीं उपचार के बाद सभी बीमार लोगों की हालत अब ठीक है। वहीं लोगों को आशंका है कि रसमलाई खाने के बाद तबीयत बिगड़ी।

भास्कर अलर्ट : गर्मी का सीजन है, सत्कार के साथ भोजन की गुणवत्ता बनाए रखने की जरूरत, हलवाई की जरा सी चूक बिगाड़ सकती है तबीयत

मरीजों के लिए बेड कम पड़ गए

फूड पॉयजनिंग के कारण नाडोल कस्बे में एक शादी समारोह में 300 से अधिक लोग बीमार हो गए और उन्हें उल्टियां शुरू हो गई। जिनको उपचार के लिए नाडोल चिकित्सालय में लाया गया। मगर वहां पर बेड कम पड़ गए।

गर्मी के कारण खराब हुई रसमलाई, खुशियों में खलल

नाडोल में मगाराम चौधरी की पुत्री की शादी में मेहमानों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई थी। जिसमें विभिन्न प्रकार के भोजन के साथ रसमलाई भी शामिल थी। अधिकांश लोगों की तबीयत रसमलाई खाने के बाद ही बिगड़ी।

नाडोल कस्बे में एक शादी समारोह में फूड पॉयजनिंग से लोगों के बीमार होने की सूचना मिलते ही सादड़ी चिकित्सालय से डॉक्टरों की टीम भेजकर उनका उपचार शुरू करवा दिया था। जिसके बाद सभी मरीजों की हालत अब ठीक है तथा उन्हें चिकित्सालयों से छुट्टी दे दी। -राजेश मेवाड़ा, एसडीएम, देसूरी

अस्पताल में बेड कम पड़ने से रानी व जवाली के चिकित्सालयों में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया

भास्कर संवाददाता | पालीदेसूरी

जिले के नाडोल कस्बे में शुक्रवार देर रात को एक शादी समारोह में फूड पॉयजनिंग से दूल्हा-दुल्हन सहित 300 से ज्यादा लोग बीमार हो गए। इन सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। अचानक बीमार इतने लोगों के साथ आने से नाडोल अस्पताल में बेड कम पड़ गए। कुछ लोगों को रानी व जवाली रेफर किया गया। अब सभी की हालत ठीक बताई जा रही है तथा छुट्टी दे दी है। वहीं सादड़ी चिकित्सालय से भी डॉक्टर की टीम उपचार के लिए नाडोल पहुंची, जहां सभी बीमार लोगों का उपचार किया गया। वहीं फूड पॉयजनिंग किसके खाने से हुई। इसका खुलासा अभी तक नहीं हो पाया है। मगर लोगों का कहना है कि अधिकांश की तबीयत रसमलाई खाने से बिगड़ी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नाडोल निवासी मगाराम पुत्र दूदापुरा चौधरी की पुत्री की शादी थी और नारलाई से मूलाराम पुत्र मोतीलाल सीरवी के पुत्र की बारात आई हुई थी। शुक्रवार की शाम शादी में मेहमानों व रिश्तेदारों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई थी। जिन्होंने शादी में बनाए गए विभिन्न भोजन को ग्रहण किया। उसके बाद रात 1.30 बजे अचानक एक के एक बाद शादी में शामिल लोगों की तबीयत बिगड़ना शुरू हो गई। इसके बाद शादी समारोह में अफरा-तफरी मच गई। वहीं बीमार लोगो को चिकित्सालय ले जाने के लिए वाहन कम पड़ गए। बीमार लोगों को जैसे-तैसे नाडोल चिकित्सालय में लाया गया मगर वहां पर बेड कम पड़ गए। ऐसे में कुछ मरीजों को उपचार के लिए रानी और जवाली भेजा गया। वहीं नाडोल में मरीजों की अधिक संख्या को देख सादड़ी चिकित्सालय से डॉक्टरों की टीम को नाडोल बुलाया गया। उसके बाद फूड पॉयजनिंग पीडि़त लोगों का डॉ.अनिल बोड़ा नाडोल,डॉ.राजेंद्र पूनमिया सादड़ी व चिकित्साकर्मियों ने उपचार शुरू किया। सूचना मिलने पर सरपंच यशोदा वैष्णव व नारलाई सरपंच दौलत चौधरी अस्पताल पहुंचे तथा बीमार लोगों से मिले। वहीं नाडोल चिकित्सालय में 160, रानी चिकित्सालय में 45 और जवाली में 10 फूड पॉयजनिंग से गंभीर रूप से बीमार लोगों को उपचार के लिए भर्ती किया गया। शेष बीमार लोगों को दवाइयां देकर उनका प्राथमिक उपचार कर उसी समय छुट्टी दे दी। वहीं उपचार के बाद सभी बीमार लोगों की हालत अब ठीक है। वहीं लोगों को आशंका है कि रसमलाई खाने के बाद तबीयत बिगड़ी।

160 को नाडोल अस्पताल में भर्ती कराया

नाडोल कस्बे में एक शादी समारोह में शुक्रवार की देर रात्रि में फूड पॉयजनिंग के कारण करीब 300 से अधिक लोग बीमार हो गए थे। इनमें से 160 को नाडोल अस्पताल में भर्ती किया गया। वहीं रानी चिकित्सालय में 45 तथा जवाली में 10 लोगों का उपचार किया गया। वहीं बाकी लोगों काे प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई थी।

तांबे के बर्तन में बनाया था कैरी का पानी, जिसने भी पानी पिया, वो हुआ बीमार

बताया जाता है कि सांवरिया फार्म हाउस में शुक्रवार रात शादी समारोह के दौरान आयोजक ने गर्मी के हिसाब से कैरी का पानी रखा था। हलवाई ने तांबे के बर्तन में कैरी का पानी बना दिया, जिससे पानी दूषित हो गया। जिसने भी भोजन के बाद कैरी का पानी लिया, उन सभी को पेट में गैस बनना, उल्टी व दस्त की शिकायत हो गई। चिकित्सकों ने भी मरीजों में उल्टी दस्त व गैस होने की शिकायत हो गई। चिकित्सकों का कहना है कि फूड पॉइजनिंग के कारण ऐसा होता है।

अब स्थिति सामान्य है

जिले में नाडोल व पाली में आयोजित शादी समारोह में भोजन करने के बाद लोगों की तबीयत बिगड़ी थी। इसके लिए चिकित्सा टीम गठित कर मरीजों का उपचार करवाया गया है। लगभग सभी मरीजों में उल्टी-दस्त, पेटदर्द की शिकायत हुई है। अक्सर फूड पॉइजनिंग के कारण ऐसा होता है। जिला मुख्यालय पर आयोजित शादी समारोह में भोजन के सैंपल लेने के लिए टीम भेजी गई थी, लेकिन वहां दूसरी पार्टी का आयोजन शुरू होने से सैंपल नहीं ले पाए। प्रारंभिक तौर पर सूचना मिली है कि हलवाई ने तांबे के बर्तन में कैरी का पानी रखा था, इसी कारण रिएक्शन हुआ है। - डॉ. एसएस शेखावत, सीएमएचओ, पाली

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rani News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: नाडोल में शादी समारोह में रसमलाई खाने से 300 से ज्यादा बारातियों की तबीयत बिगड़ी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rani

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×