--Advertisement--

शिक्षक प्रशिक्षण शिविर में दी उपयोगी जानकारी

रानी | सहायक निदेशक लालाराम प्रजापत ने कहा कि शिक्षा से बालक के व्यवहार व व्यक्तित्व का विकास किया जाना आवश्यक है।...

Dainik Bhaskar

May 28, 2018, 05:40 AM IST
रानी | सहायक निदेशक लालाराम प्रजापत ने कहा कि शिक्षा से बालक के व्यवहार व व्यक्तित्व का विकास किया जाना आवश्यक है। शिक्षकों को इस दिशा में सकारात्मक सोच व समर्पण के साथ शिक्षण कार्य करवाना चाहिए। प्रजापत ने यह विचार राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बिजोवा में आयोजित पंडित दीनदयाल उपाध्याय आवासीय शिक्षक प्रशिक्षण शिविर में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को निष्ठा व समर्पण की भावना से शिक्षण कार्य में गुणात्मक विकास के प्रयास करने चाहिए। जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक शिक्षा पन्नालाल अहीर ने शिक्षकों से शिक्षण कार्य में पूर्ण समर्पित होकर कार्य करने का आव्हान किया। कार्यक्रम अधिकारी सर्वशिक्षा भागीरथ ने एसआईक्यूई की अवधारणा व उद्देश्यों को रेखांकित करते हुए शिक्षकों को रचनात्मक बनकर कार्य में गुणात्मक विकास की आवश्यकता प्रतिपादित की।





प्रधानाचार्य मोडाराम चौधरी व अतिरिक्त ब्लाक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी मुकनाराम बाबल ने आगंतुकों का स्वागत करते हुए शिविर कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी। शिविर में शिक्षक रमेश राव, वीणा गुर्जर, संतोष कुमार, अर्जुनसिंह दक्ष प्रशिक्षक के रूप में प्रशिक्षण दे रहे हैं। शिक्षक सवाराम ने बताया कि शिविर में 87 शिक्षकों ने भाग लिया।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..