रानी

--Advertisement--

मैं मरते दम तक काम करना चाहती हूं : मनीषा कोइराला

कैं सर से रिकवरी करने वाली मनीषा कोइराला इन दिनों जिंदगी को पूरी तरह जी रही हैं। हाल ही में उन्होंने अपने...

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 05:45 AM IST
मैं मरते दम तक काम करना चाहती हूं : मनीषा कोइराला
कैं सर से रिकवरी करने वाली मनीषा कोइराला इन दिनों जिंदगी को पूरी तरह जी रही हैं। हाल ही में उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। इसमें वे स्विमिंग में हाथ आजमाती हुई नजर आ रही हैं। इस बारे में जब उनसे बात की तो उन्होंने कहा, ‘मुझे पता था कि लोग यही सवाल करेंगे इस उम्र में मैं स्विमिंग क्यों सीखना चाहती हूं। मुझे हमेशा से ही पानी में रहना पसंद है पर मैंने कभी तैरना नहीं सीखा। अब जाकर मुझे लगा कि कुछ नया करना चाहिए तो मैं स्विमिंग सीख रही हूं। इन दिनों मैं रोज सुबह 6 बजे स्विमिंग करती हूं। मेरे ऊपर इसका जुनून सवार है।’

 स्विमिंग ट्रेनिंग, सोलो ट्रिप... लगता है आप पोस्ट रिकवरी सेशन को पूरी तरह एंजॉय कर रही हैं?

मैं बांहें खोल कर जिंदगी के मजे ले रही हूं। वो सब कुछ कर रही हूं जो मुझे पसंद है। मुझे नेचर पसंद है, ट्रैकिंग पसंद है, लॉन्ग वॉक पसंद है... इसलिए ये सभी कर रही हूं।

 जब आपको कैंसर का पता लगा था तब आपका कॅरिअर लगभग खत्म हो चुका था। पिछले साल आपने ‘डियर माया’ से वापसी की और अब एक के बाद एक तीन फिल्मों में नजर आएंगी। कमबैक पर क्या कहना है?

40 वर्ष की उम्र के बाद भी अगर आप काम कर पा रहे हैं तो इससे बेहतर कोई बात नहीं हो सकती। सच कहूं तो जब मैं 20 साल की थी तब मुझे पता ही नहीं था कि मैं अपने काम से कितना प्यार कर पाऊंगी। लेकिन आज मुझे लगता है कि मैं काम करते हुए मरना चाहती हूं। क्या आपने कभी इटैलियन मूवी ‘द पोस्टमैन’ का नाम सुना है। इस फिल्म की शूटिंग पूरी हो जाने के बाद इसके एक्टर मासिमो ट्रॉसी का निधन हो गया था। मैं उनकी कीमत इस फिल्म के जरिए ही जानती हूं क्योंकि मेरे लिए सिनेमा और एक्टिंग ही सब कुछ है। अगर आप अपने काम से प्यार करते हैं तो हमेशा उसे करते रहें। यकीन मानिए उसे करते हुए दुनिया को अलविदा कहने से बेहतर कुछ और नहीं है। मैं खुशनसीब हूं जो मुझे हर तरह के किरदार निभाने का मौका मिला। अब मुझे सिर्फ टाइपकास्ट होने का डर सताता है। इंडस्ट्री में 40 के ऊपर की एक्ट्रेस को तुरंत मां के किरदारों में देखने लगते हैं।

 ‘लस्ट स्टोरीज’ में आपकी स्टाेरी एक्स्ट्रा मेरिटियल अफेयर की है। क्या कोई बोल्ड सीन भी दिया है?

इस फिल्म में मुझे एक नया किरदार निभाने का स्कोप मिला है। हालांकि, मैं कंजरवेटिव हूं इसलिए मेरी बोल्डनैस की कुछ लिमिटेशन है। यहां तक की मेरे डायरेक्टर (दिबाकर बैनर्जी) ने मुझसे कहा कि लोग जानते हैं कि मैंने आपकी वजह से बोल्ड फिल्म नहीं बनाई।

90 के दशक में ‘रोजा’ और ‘1942 ए लव स्टोरी’ जैसी हिट फिल्में देने वाली एक्ट्रेस मनीषा कोइराला पिछली साल रिलीज हुई फिल्म ‘डियर माया’ में नजर आईं थी। अब वे बैक टू बैक तीन फिल्मों में दिखाई देंगी। ये फिल्में दिबाकर बैनर्जी की ‘लस्ट स्टोरीज’, राजकुमार हीरानी की ‘संजू’ और संजय दत्त की ‘प्रस्थानम’ हैं। मनीषा से हुई बातचीत...

आप ‘लस्ट स्टोरीज’ के साथ डिजिटल स्पेस पर डेब्यू कर रही हैं?

जी हां, इसके अलावा भी मेरे पास कई और ऑफर्स हैं।

आमने-सामने

संजय को आप काफी वक्त से जानती हैं। ‘प्रस्थानम’ में उनके साथ फिर से काम करने जा रही हैं। उनके साथ काम करने का एक्सपीरियंस शेयर कीजिए...

बाबा को मैं बचपन से जानती हूं। जब ‘रॉकी’ रिलीज हुई थी तब मैं उनकी फैन बन चुकी थी। उस वक्त मैं शायद 7वीं या 8वीं क्लास में थी। हमें घर फिल्मों के पोस्टर्स लगाने की अनुमति नहीं थी तो मैं अलमारी पर उनके पोस्टकार्ड चिपकाया करती थी। जब मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला तब मैंने उन्हें बताया कि मैं उनकी बड़ी फैन थी। उन्होंने मुझसे तुरंत पूछा, ‘फैन थे। क्यों अब नहीं हैं?’ उनके साथ काम करके हमेशा खुशी होती है। फिर से साथ काम करने के लिए एक्साइटेड हूं।

‘संजू’ में आप नरगिस का रोल प्ले कर रही हैं। इसके लिए तैयारी कैसे की?

शुरुआत मैं बिल्कुल भी कॉन्फिडेंट नहीं थी। मुझे नहीं पता था कि मैं इस किरदार के साथ कितना न्याय का पाऊंगी। मैं नवर्स थी पर राजकुमार हिरानी और उनकी टीम पूरी तरह तैयार थी। हमने कई लुक टेस्ट किए और ढ़ेर सारा डिस्कशन किया। मैंने नरगिस जी की डॉक्यूमेंट्री देखी और उनके बारे में लिखी गई किताबें पढ़ीं।

X
मैं मरते दम तक काम करना चाहती हूं : मनीषा कोइराला
Click to listen..