रानी

--Advertisement--

भजन संध्या के साथ हुआ नानी बाई रो मायरो कथा का समापन

चंडावल | ग्राम में गोरक्षा आपातकालीन सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित नानी बाई रो मायरो कथा के समापन पर बुधवार...

Dainik Bhaskar

May 25, 2018, 06:05 AM IST
भजन संध्या के साथ हुआ नानी बाई रो मायरो कथा का समापन
चंडावल | ग्राम में गोरक्षा आपातकालीन सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित नानी बाई रो मायरो कथा के समापन पर बुधवार शाम को एक शाम गोमाता के भजन संध्या का आयोजन किया गया। भजन संध्या का आगाज गायिका खुशबू कुंभट जोधपुर व कथा वाचक किशोरी भावना ने गणपति वंदना व गुरुवाणी से किया। इसके बाद उन्होंने मीठे रस से भरी रे...राधा रानी लागे, मने कारो-कारो जमुनाजी रो पानी लागे...आदि भजन प्रस्तुत किए। कार्यक्रम आयोजक बावजी जितेंद्रसिंह चौहान ने गोसेवा समिति सदस्यों व अतिथियों का माला पहनाकर बहुमान किया गया। भजन संध्या में संत जगनाथ महाराज, संत सुखाराम महाराज, डॉ.सोहनलाल सीरवी, भव्यांशु सीरवी, हरलाल जाट, तेजराज, माधोसिंह सिसोदिया, माणकचंद साद, मोहनलाल चौहान, कुंवरसिंह, सुनील परमार, देवाराम चौहान, भगवानसिंह सोलंकी, महेंद्र, वीरेंद्र बालेटिया आदि मौजूद थे।

चंडावल | भजन संध्या में प्रस्तुति देती कथा वाचक किशोरी भावना व खुश्बू कुुंभट।

X
भजन संध्या के साथ हुआ नानी बाई रो मायरो कथा का समापन
Click to listen..