• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Rani News
  • ‘नीम के पेड़ के नीचे बैठकर मैंने प्राइमरी एजुकेशन ली है’
--Advertisement--

‘नीम के पेड़ के नीचे बैठकर मैंने प्राइमरी एजुकेशन ली है’

ने शनल अवार्ड मिलने की खुशी कैसे जाहिर करेंगे? वह मेरे लिए बहुत ही रोचक पल था। उस दौरान मेरे गले में इन्फेक्शन था...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 06:10 AM IST
‘नीम के पेड़ के नीचे बैठकर मैंने प्राइमरी एजुकेशन ली है’
ने शनल अवार्ड मिलने की खुशी कैसे जाहिर करेंगे?

वह मेरे लिए बहुत ही रोचक पल था। उस दौरान मेरे गले में इन्फेक्शन था मैंने खाना भी नहीं खाया। सिर्फ गरम पानी पी रहा था पर खुशी के मारे मुझे भूख नहीं लग रही थी। मुझे बहुत खुशी हुई कि लोगों को मेरा काम पसंद आया।

 और जिन लोगों ने इस अवॉर्ड का विरोध किया उनके बारे में क्या कहेंगे?

यही कि कला का मूल मकसद वर्ग भेद दूर करना है। पुराने जमाने में कलाकार ही राजा और प्रजा के बीच की खाई दूर करते थे। रही बात सम्मान (नेशनल अवाॅर्ड) की तो वो चाहे सूचना प्रसारण मंत्री दें या राष्ट्रपति वह कहा तो नेशनल अवाॅर्ड ही जाएगा ना। मेरे ख्याल से अगर विजेताओं को सही वक्त पर इस बात की जानकारी मिल गई होती तो इसका इतना विरोध नहीं होता।

 बिहार के गांवों से आने वाले लाेगों को आप9की सफलता प्रेरित करेगी?

जी हां। उन्हें बिल्कुल लगेगा कि जब बेलसंड गांव की आम मिडिल क्लास फैमिली का पंकज त्रिपाठी ऐसा कर सकता है तो कोई और क्यों नहीं कर सकता। लोगों को जानकार हैरानी होगी कि कभी मैंने प्राइमरी एजुकेशन नीम के पेड़ के नीेचे बैठकर पूरी की थी। फिर पटना के थिएटर और दिल्ली के एनएसडी ने मुझे इस मुकाम तक पहुंचाया।

 बीते दो साल आपके लिए बड़े व्यस्त रहे हैं। आने वाला वक्त कैसा रहेगा?

जी हां। तकरीबन एक दर्जन फिल्में की होंगी। बीते तीन महीनों में तो मुझे 25 से 30 फिल्मों के ऑफर मिले हैं। पर समय की कमी और बाकी प्रोफेशनल कमिटमेंट्स के चलते उन्हें हां नहीं कह पाया। फिलहाल तिग्मांशु धूलिया के साथ ‘क्रिमिनल जस्टिस’ नामक वेब शो कर रहा हूं। मैं उसमें वकील बना हूं। यह शो इंडियन ज्यूडिशियरी सिस्टम पर बेस्ड है। इसके अलावा लखनऊ में अनुभव सिन्हा की फिल्म ‘अभी तो पार्टी शुरू हुई है’ की शूटिंग भी कर रहा हूं।

Pankaj

Tripathi

X
‘नीम के पेड़ के नीचे बैठकर मैंने प्राइमरी एजुकेशन ली है’
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..