--Advertisement--

696 नोटरी पब्लिक को नियुक्ति, कोर्ट विवाद से 28 जगह अटकीं

राज्य सरकार ने 20 माह की लंबी प्रकिया के बाद प्रदेश में नोटरी पब्लिक के 696 पदों पर नियुक्तियां दे दीं। साक्षात्कार के...

Dainik Bhaskar

May 24, 2018, 06:15 AM IST
राज्य सरकार ने 20 माह की लंबी प्रकिया के बाद प्रदेश में नोटरी पब्लिक के 696 पदों पर नियुक्तियां दे दीं। साक्षात्कार के बाद विधि विभाग ने रिजल्ट जारी कर दिया। इनमें 28 जगह करीब 100 लोगों की नियुक्तियां राजस्थान हाईकोर्ट में विचाराधीन प्रकरणों के चलते अटक गई है। वहीं, 5 स्थान ऐसे भी सामने आए जहां से कोई आवेदन ही नहीं आया। यह पहला मौका है जब इतनी बड़ी संख्या में नोटरी पब्लिक के पदों पर नियुक्तियां दी गई है। राज्य में अब तक 1200 नोटरी पब्लिक है। विधि एवं विधिक कार्य विभाग के प्रमुख सचिव महावीर प्रसाद शर्मा के आदेश से साक्षात्कार में चयनित नोटरी पब्लिक की स्थान वार सूची जारी की गई है। नोटेरी पब्लिक का 800 पदों पर नियुक्ति के लिए 6 सितंबर, 2016 को अधिसूचना जारी की गई थी। इसके बाद 23 सितंबर तक करीब साढ़े आठ हजार लोगों ने आवेदन किए। लेकिन, इनमें से 941 आवेदन रिजेक्ट कर दिए गए और फाइनली 7588 आवेदकों को इंटरव्यू के लिए बुलवाया गया। सचिवालय में 27 नवंबर से 7 फरवरी तक करीब सवा दो महीने तक इंटरव्यू हुए। इसके बाद यह सूची जारी की गई है।

यहां नियुक्ति अटकी: अलवर में टहला, बांसवाड़ा में गढ़ी, चित्तौड़गढ़ में बड़ी सादड़ी एवं निकुम्ब, धौलपुर में राजाखेड़ा, जयपुर, जैसलमेर, जोधपुर में पीपाड़सिटी, नागौर एवं परबतसर, पाली, सुमेरपुर, रानी, देसूरी, खिंवाड़ा, आबूरोड व माउंट आबू, मंडरायल, करौली एवं करणपुर, टोंक में टोंक, नासिरदा, निवाई, दूनी, बरवास, बनेठा, सौंप एवं उनियारा से संबंधित मामले हाईकोर्ट में रिट याचिकाओं से लंबित हैं।

यहां से आवेदन ही नहीं : जयपुर के मूंडोता व दूदू, जोधपुर के झंवर, सवाई माधोपुर के बरनाला एवं भांवरा के लिए अंतिम तिथि तक एक भी आवेदन नहीं मिला। यहां नए सिरे से आवेदन लेंगे।

5 जगह तो आवेदन ही नहीं आए, 20 महीने लंबी चली प्रक्रिया

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..