रानी

--Advertisement--

6.6 लाख करोड़ रु. होगी श्याओमी की वैलुएशन

स्मार्टफोन बनाने वाली चाइनीज कंपनी श्याओमी आईपीओ लाएगी। गुरुवार को इसने हांगकांग में इसके लिए आवेदन जमा किया।...

Dainik Bhaskar

May 04, 2018, 06:15 AM IST
स्मार्टफोन बनाने वाली चाइनीज कंपनी श्याओमी आईपीओ लाएगी। गुरुवार को इसने हांगकांग में इसके लिए आवेदन जमा किया। आईपीओ का साइज नहीं बताया गया है, लेकिन सूत्रों के मुताबिक कंपनी 10 अरब डॉलर (66,000 करोड़ रु.) जुटाएगी। इसके बाद कंपनी की वैल्यू 100 अरब डॉलर (6.6 लाख करोड़ रुपए) हो जाएगी। 2014 में अलीबाबा के 21.77 अरब डॉलर (1.43 लाख करोड़ रु.) के आईपीओ के बाद यह सबसे बड़ा इश्यू होगा। आईपीओ जून में आएगा। अभी प्राइस बैंड तय नहीं किया गया है। श्याओमी 8 साल पुरानी कंपनी है। आईपीओ के बाद यह टेंसेंट होल्डिंग्स और अलीबाबा के बाद चीन की तीसरी सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी बन जाएगी। कंपनी ने रेगुरलेटरी फाइलिंग में बताया कि वह आईपीओ से जुटाए पैसे का इस्तेमाल आरएंडडी और विदेश में बिजनेस बढ़ाने में करेगी। खासकर एआई और आईओटी जैसी टेक्नोलॉजी पर इसका फोकस रहेगा।


चीन की 8 साल पुरानी श्याओमी 66,000 करोड़ का आईपीओ लाएगी, 2014 में अलीबाबा के 1.4 लाख करोड़ के बाद सबसे बड़ा इश्यू

श्याओमी का आईपीओ दुनिया का 15वां सबसे बड़ा होगा

सबसे बड़े 5 आईपीओ

श्याओमी का आईपीओ दुनियाभर में 15वां सबसे बड़ा और हांगकांग का चौथा सबसे बड़ा होगा।

(आंकड़े लाख करोड़ रु. में, स्रोत : स्टैटिस्टा)

दुनिया की चौथी सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनी है श्याओमी

अन्य

39.3%

स्मार्टफोन कंपनियों की बाजार में हिस्सेदारी

ओप्पो

6.1%

(स्रोत : कांउटरपॉइंट रिसर्च)

सैमसंग

21.7%

श्याओमी

7.5%

एपल

14.5%

हुवावे

10.9%

2017 में आय 67.5% बढ़ी, 15,000 करोड़ का मुनाफा

आईपीओ के ऐलान से पहले कंपनी ने निवेशकों के सामने पहली बार वित्तीय स्थिति का खुलासा किया। 2017 में इसे 1.18 लाख करोड़ रुपए के रेवेन्यू पर 15,000 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ। पिछले साल रेवेन्यू में 67.5% ग्रोथ रही।

कंपनी को 60% फायदा इंटरनेट बेस्ड सर्विस से

2017 में कंपनी को 60% लाभ इंटरनेट आधारित सेवाओं से हुआ। स्मार्टफोन बिजनेस से फायदा 8.8% था। एपल को 60% मुनाफा आईफोन एक्स और आईफोन 8 से मिला था।

31% मार्केट शेयर के साथ भारत में सबसे आगे

कांउटरपॉइंट के मुताबिक 2018 की पहली तिमाही में 51% ग्रोथ के साथ कंपनी चीन में शीर्ष 5 में है। 31.1% मार्केट शेयर के साथ भारतीय स्मार्टफोन बाजार में सबसे आगे है।

X
Click to listen..