Hindi News »Rajasthan »Rani» दुकानदार से दाम कम करने को कहा, राम कहानी सुन जायदाद में दिया हिस्सा

दुकानदार से दाम कम करने को कहा, राम कहानी सुन जायदाद में दिया हिस्सा

पता है एक दुकानदार के सामने क्या नहीं कहना चाहिए? एक दुकानदार से आप कुछ भी मांगने को स्वतंत्र है। दुकान चाहे...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 06:20 AM IST

पता है एक दुकानदार के सामने क्या नहीं कहना चाहिए? एक दुकानदार से आप कुछ भी मांगने को स्वतंत्र है। दुकान चाहे धनिया-पुदीने की हो, किराने की या 150 बरस पुरानी कपड़ों की दुकान, बस एक मौके पर सारे दुकानदार एक जैसे हो जाते हैं, टूट जाते हैं। जब आप उनसे किसी चीज का सही दाम लगाने को कह दो। "सही-सही दाम लगा दो' सुनकर दुकानदार ऐसे भड़कते हैं, जैसे अंग्रेजी हुक्मरान वन्दे मातरम् और भारत माता की जय के नारे सुनकर भड़कते थे।

आप उनसे साड़ियों में हवाई जहाज का प्रिंट मांग सकते हैं। चायपत्ती के साथ मुफ्त का हेडफोन मांग सकते हैं। लौकी में करेले का टेस्ट मांग सकते हैं। अगरबत्ती में मच्छरमार मांग सकते हैं। वो दे भी देंगे और अगर नहीं दे सके तो भरोसा दिला देंगे कि आप जो मांग रहे हैं, वो बहुत आउटडेटेड और हल्के किस्म का प्रोडक्ट है। आपकी वय और व्यय दोनों से मेल नहीं खाता और जो वो दे रहे हैं एक वही चीज संपूर्ण हैं। उनकी दुकान पर चाय पीने के नाम पर आप चाहे असम के चाय बागान खाली कर दें वो उफ न करेंगे। "ठंडा पानी पिलाओ' कह-कहकर आप अपने 5 एकड़ खेत सींच डालें, वो मना नहीं कर सकते, लेकिन अगर आपने ठीक दाम लगाने की बात कही, दुकानदार उसी क्षण बदल जाता है।

जैसे ही आप दाम कम करने की बात कहेंगे दुकानदार गरीब हो पड़ेगा। बताएगा, ये दुकान, शो रूम, चमक-दमक ये सब मिथ्या है। ये जो बड़े-बड़े सीएफएल जल रहे हैं, इनका बिल तक नहीं भरा जा रहा है। सबसे बड़ी बात होती है किराया और यकीन मानिए अगर उसने किराए का जिक्र किया तो भुक्तभोगी होने के नाते आप भी गिल्ट में भर जाएंगे कि दाम घटाने को कहा ही क्यों? तत्पश्चात ट्रांसपोर्ट से लेकर देश की जीडीपी, क्रूड ऑइल के दाम, स्टोरेज की समस्या समेत मार्केट में कंपटीशन का ऐसा ज्ञान दुकानदार आपको देगा कि आपकी रूह कांप जाए। पांच मिनट पहले जो दुकानदार आपको बाजारवाद का सबसे बड़ा खिलाड़ी लग रहा था, वो अपनी छवि आपके सामने ऐसी रखेगा मानो वो संत हो। मानवमात्र की सेवा के लिए उसने ये दुकान खोल रखी है। इस दुकान को चलाने के लिए वो पैसे भी अपने घर से लगा रहा है, गले तक क़र्ज़ में डूब चुका है। सूत्र तो ये भी बताते हैं कि एक बार एक बुजुर्ग को जब दुकानदार ने ऐसी समस्याएं बताईं तो उन्होंने न सिर्फ ज्यादा दाम में सामान लिया बल्कि दुकानदार को जायदाद में हिस्सा भी दे दिया था।

सब्जीवाला आपको बताएगा कि दुनिया से सब्जियों का अंत हो गया है, किसानों ने सब्जी उगानी बंद कर दी है, सारी नदियों का पानी सूख चुका है और अगले महीने से सब्जियां अंतरिक्ष केंद्रो में वैज्ञानिकों की देख-रेख में उगाई जाएंगी। आपको पता लगेगा कि सामने दुनिया की आख़िरी आधा किलो भिंडी रखी है और इसे हीरे के दाम खरीद लेने में ही भलाई है। कपड़े वाला बताएगा कि हाथ में लेकर जो शर्ट का कपड़ा आपने 300 की जगह 320 रूपए मीटर में लेने से मना कर दिया, ये वो कपड़ा है जो उसेन बोल्ट ने वर्ल्ड रेकॉर्ड बनाते समय जर्सी में पहन रखा था। ये कपड़ा पसीना आते ही एक्टिवेट हो जाता है और रेशों से एसी की हवा छूटने लगती है। किराने वाला बताएगा कि अगर आपने 90 की चायपत्ती 95 में ले ली और एमआरपी से कम कीमत करने को नहीं कहा तो चाय कंपनी का मालिक न सिर्फ आपको एक स्टील का चम्मच, एक एयरटाइट डिब्बा देगा बल्कि कंपनी का सीईओ भी बना सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rani News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दुकानदार से दाम कम करने को कहा, राम कहानी सुन जायदाद में दिया हिस्सा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rani

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×