Hindi News »Rajasthan »Rani» फतापुरा में मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम संपन्न, हुई भजन संध्या

फतापुरा में मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम संपन्न, हुई भजन संध्या

रानी | निकटवर्ती फतापुरा में बायोसा के भोपाजी भूराराम-लालाराम मेघवाल की समाधि स्थल पर भंडारा, मूर्ति...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 23, 2018, 06:25 AM IST

रानी | निकटवर्ती फतापुरा में बायोसा के भोपाजी भूराराम-लालाराम मेघवाल की समाधि स्थल पर भंडारा, मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम रविवार को संपन्न हुआ। इससे पूर्व शनिवार रात्रि में भजन संध्या का आयोजन भी हुआ, जिसमें संतो के सानिध्य में देर रात गुरू वाणी का बखान किया। गौरतलब है कि बायोसा मंदिर के भोपाजी कुछ दिनों पूर्व देवलोक होने पर सोनल परिवार व ग्रामीणों द्वारा धूमधाम से गांव में शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा मेघवालों के वास में स्थित बायोसा मंदिर से लेकर गांव के मुख्य मार्गो से होकर समाधि स्थल पहुंची। जहां भोपाजी की मूर्ति का विधि-विधान पूर्वक पूजा-अर्चना कर संतों के सानिध्य में प्राण प्रतिष्ठा हुई । इस अवसर पर पूर्व आयुर्वेद मंत्री अचलाराम मेघवाल, बालयोगी संत संतोष महाराज, प्रेमानंद, पूर्व ठाकुर हीरसिंह फतापुरा, उपप्रधान भंवरलाल सुमन, गुडालास सरपंच चैनाराम चौधरी, पं.स. सदस्य नवाराम चौधरी, नाथुसिंह, राजेन्द्रसिंह, चौथाराम चिरपटिया आदि मौज्ूद थे।





लक्ष्मण बांगड़, चम्पालाल भाटी, रूपाराम, खेताराम गहलोत, आशाराम, मोहनलाल, जगदीश, हिम्मतराम सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

रानी | निकटवर्ती फतापुरा में बायोसा के भोपाजी भूराराम-लालाराम मेघवाल की समाधि स्थल पर भंडारा, मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम रविवार को संपन्न हुआ। इससे पूर्व शनिवार रात्रि में भजन संध्या का आयोजन भी हुआ, जिसमें संतो के सानिध्य में देर रात गुरू वाणी का बखान किया। गौरतलब है कि बायोसा मंदिर के भोपाजी कुछ दिनों पूर्व देवलोक होने पर सोनल परिवार व ग्रामीणों द्वारा धूमधाम से गांव में शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा मेघवालों के वास में स्थित बायोसा मंदिर से लेकर गांव के मुख्य मार्गो से होकर समाधि स्थल पहुंची। जहां भोपाजी की मूर्ति का विधि-विधान पूर्वक पूजा-अर्चना कर संतों के सानिध्य में प्राण प्रतिष्ठा हुई । इस अवसर पर पूर्व आयुर्वेद मंत्री अचलाराम मेघवाल, बालयोगी संत संतोष महाराज, प्रेमानंद, पूर्व ठाकुर हीरसिंह फतापुरा, उपप्रधान भंवरलाल सुमन, गुडालास सरपंच चैनाराम चौधरी, पं.स. सदस्य नवाराम चौधरी, नाथुसिंह, राजेन्द्रसिंह, चौथाराम चिरपटिया आदि मौज्ूद थे।





लक्ष्मण बांगड़, चम्पालाल भाटी, रूपाराम, खेताराम गहलोत, आशाराम, मोहनलाल, जगदीश, हिम्मतराम सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rani

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×