Hindi News »Rajasthan »Rashmi» रोटरी क्लब के नेत्र चिकित्सा शिविर में 226 मरीजों का किया उपचार

रोटरी क्लब के नेत्र चिकित्सा शिविर में 226 मरीजों का किया उपचार

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ रोटरी क्लब चित्तौड़गढ़ द्वारा आयोजित दो दिवसीय निशुल्क नेत्र शल्य चिकित्सा शिविर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 03, 2018, 06:45 AM IST

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

रोटरी क्लब चित्तौड़गढ़ द्वारा आयोजित दो दिवसीय निशुल्क नेत्र शल्य चिकित्सा शिविर में 226 नेत्र रोगियों ने जांच के लिए पंजीयन करवाया एवं 65 नैत्र रोगीयों ने शिविर में मोतियाबिन्द आॅपरेशन का लाभ लिया।

शिविर के आॅपरेशन सत्र के मुख्य अतिथि कलेक्टर इंद्रजीतसिंह थे। रोटेरियन उमेश जैन की अध्यक्षता में हुआ। डाॅ. सुधीर गुप्ता एवं सभी टीम को बधाई दी। कलेक्टर ने आॅपरेशन थिएटर भी अवलोकन किया। तहसीलदार मोहनसिंह राजावत, रोटरी क्लब के असिस्टेंट गर्वनर नरेन्द्र चोरड़िया, वरिष्ठ रघुवीर जैन, निरंजन नागौरी, आरके न्याती, मनोहर तोषनीवाल, नरेन्द्र सांवत, संजय ढीलीवाल, हितेश श्रीमाल, ललित खंडेलवाल, मनोज भोजवानी, राकेश पुंगलिया, एनएल मालू, राजेन्द्र भंडारी, केएल भूतड़ा, डाॅ. ललित जैनानी, अनिल काबरा थे। अध्यक्ष करूण तोषनीवाल ने रोटरी की ओर से कलेक्टर एवं समस्त प्रशासन, नगर परिषद, मेवाड़ गर्ल्स काॅलेज आॅफ नर्सिंग, इनरव्हील क्लब, पंचमुखी चिकित्सालय, डाॅ. सुधीर गुप्ता, आर्थिक सहयोग के लिए उमेश जैन एवं परिवार व बिरला सीमेंट वर्क्स का आभार किया। डाॅ. जेएल पुंगलिया, शिविर प्रभारी डाॅ. जगदीशचन्द्र भराड़िया, राजेन्द्र पाटनी, रामेश्वर हेडा एवं सचिव बसंत हेड़ा को भी विशेष धन्यवाद दिया। इनरव्हील क्लब की ओर से अध्यक्ष मीना चोरड़िया, उपाध्यक्ष रश्मि जैन, सचिव महक जैनानी, सुमित्रा मानधना, कपिला धोका, सुमन हेडा, रौनक जैन एवं शिवानी जैन उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rashmi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: रोटरी क्लब के नेत्र चिकित्सा शिविर में 226 मरीजों का किया उपचार
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rashmi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×