रतनगढ़

  • Home
  • Rajasthan News
  • Ratangarh News
  • रावलामंडी के ज्वैलर्स को लूटने की साजिश चूरू में रची थी 6 आरोपी गिरफ्तार, 5 चूरू जिले के, इनमें 2 कॉलेज छात्र
--Advertisement--

रावलामंडी के ज्वैलर्स को लूटने की साजिश चूरू में रची थी 6 आरोपी गिरफ्तार, 5 चूरू जिले के, इनमें 2 कॉलेज छात्र

भास्कर संवाददाता | चूरू/श्रीगंगानगर सोमवार रात पिस्तौल दिखाकर रावलामंडी में एक ज्वैलर्स को लूटने के मामले में...

Danik Bhaskar

Feb 14, 2018, 06:55 AM IST
भास्कर संवाददाता | चूरू/श्रीगंगानगर

सोमवार रात पिस्तौल दिखाकर रावलामंडी में एक ज्वैलर्स को लूटने के मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि एक अभी फरार है। ये पांचों आरोपी चूरू जिले के हैं। इनमें दो युवक तो कॉलेज के छात्र हैं।

इन्हें कोर्ट के आदेश पर जेल भेजा दिया गया। आरोपियों को बापर्दा रखा गया है, शिनाख्त परेड के बाद इन्हें रिमांड पर लिया जाएगा। आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि लूट की साजिश हिंदुमलकोट थाना क्षेत्र के राजू लबाणा ने चूरू में रची थी। राजू लबाणा रावलामंडी के बाजार सहित पूरा क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति से वाकिफ है। सोमवार को लुटेरों की गाड़ी का पीछा कर रहे पुलिस दल की बोलेरो पलटने से सीआई अमरजीत चावला सहित एसआई रामप्रसाद ओझा, एएसआई बनवारी स्वामी, सिपाही रामकिशन, रामकेश तथा चालक दुलीचंद को चोटें आई। पुलिस ने उक्त मामले में 5 पी कोनी, हिंदुमलकोट निवासी 24 वर्षीय राजू पुत्र दलीप लबाणा, चूरू वार्ड चार आथुणा मोहल्ला निवासी 23 वर्षीय साबिर पुत्र मो. रमजान, गांव सिरसली निवासी 19 वर्षीय रामनाथ पुत्र चूनाराम व 24 वर्षीय राकेश मांझू, ढाका का बास निवासी 19 वर्षीय विवेक कुमार पुत्र सुरेशचंद जाट को गिरफ्तार किया गया। वारदात में शामिल आरोपी तारानगर तहसील के गांव सात्यूं निवासी 21 वर्षीय आशीष स्वामी फरार है। इनमें विवेक व आशीष कॉलेज छात्र हैं, जो राकेश मांझू के झांसे में आकर वारदात में शामिल हो गए। पुलिस ने साबिर से 315 बोर देसी कट्टा व पांच जिंदा कारतूस बरामद किए। एक और हथियार की बरामदगी की जानी है। बरामद बोलेरो गाड़ी हरियाणा की है। राकेश मांझू ने पुलिस को बताया कि उसने यह गाड़ी खरीदी है। साबिर के खिलाफ चूरू , रतनगढ़ और झूंझुनू में चेन छीनने, मारपीट, हत्या, लूट और डकैती के नौ मामले दर्ज हैं।

विवेक और आशीष कॉलेज आए थे, राकेश के झांसे में आकर हो गए साथ

अनूपगढ़ डीएसपी सोहनराम बिश्नोई ने बताया कि राजू लबाणा रावला व सत्तासर में लंबे समय तक रहा। वह आठ-नौ माह पहले चूरू चला गया था। यहां उसकी मुलाकात राकेश मांझू व साबिर से हुई। राजू लबाणा के खिलाफ रावला थाना में मारपीट का मामला दर्ज हैं। विवेक जाट का ननिहाल राकेश मांझू के गांव में है। ऐसे में दोनों जान पहचान थी। सोमवार को विवेक परीक्षा देने के लिए चूरू आया जहां राकेश मांझू उसे मिला तथा बोलेरो में बैठाकर ले जाते हुए विवेक को कहा कि दो घंटे बाद आ जाएंगे। विवेक ने आशीष स्वामी को अपने साथ बुला लिया। रामनाथ मेघवाल को बोलेरो चलाने के लिए गिरोह में शामिल किया गया। सभी बोलेरो में सवार होकर सोमवार को रावलामंडी में राजेंद्र सोनी की दुकान योगिता ज्वैलर्स की रैकी करने लगे। शाम को राजेंद्र सोनी को अपनी स्कूटी से घर जाने लगा, तो रास्ता में सब्जी मंडी के पास आरोपियों ने पिस्तौल दिखाकर उसके हाथ से बैग छीन लिया। बैग में छह तोला सोने के जेवरात व कागजात थे। गैंग में मुख्य सरगना साबीर के सहयोगी राकेश मांझू को छत्तरगढ़ पुलिस ने बीकानेर में मंगलवार सुबह गिरफ्तार कर रावला पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने लूटे गए सोने के गहने बरामद कर लिए, जिनकी शिनाख्त करवाई जाएगी।

आरोपियों से बरामद हुई बोलेरो गाड़ी।

Click to listen..