रावतभाटा

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Rawatbhata News
  • रावतभाटा में पाइप लाइन फूटने से जल संकट बड़ौलिया में 2 दिन से पानी नहीं, विरोध में जाम
--Advertisement--

रावतभाटा में पाइप लाइन फूटने से जल संकट बड़ौलिया में 2 दिन से पानी नहीं, विरोध में जाम

गर्मी बढ़ने के साथ ही शहर में पानी का संकट हो गया है। मंगलवार को बाड़ौलिया में पानी को लेकर महिलाओं और लोगों ने जाम...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:15 AM IST
रावतभाटा में पाइप लाइन फूटने से जल संकट बड़ौलिया में 2 दिन से पानी नहीं, विरोध में जाम
गर्मी बढ़ने के साथ ही शहर में पानी का संकट हो गया है। मंगलवार को बाड़ौलिया में पानी को लेकर महिलाओं और लोगों ने जाम लगा दिया। मौके पर तहसीलदार जगमोहन शर्मा पहुंचे। समझाइश के बाद जाम हटाया गया।

बाड़ौलिया पंचायत में पेयजल आपूर्ति ग्राम पंचायत की ओर से की जाती है। यहां पर थ्रीफेज बोरिंग का जलस्तर नीचे जाने के कारण पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। 2 दिनों से पानी नहीं मिलने से आक्रोशित महिलाओं ने सड़क पर जाम लगा दिया। इससे पहले सरपंच कालीबाई मीणा ने भी महिलाओं को समझाया।

जाम की सूचना मिलने पर तहसीलदार, पटवारी सुरेश मीणा पहुंचे, जिन्होंने महिलाओं को समझाया और बताया कि पंचायत की ओर से पानी आपूर्ति के लिए 3 टैंकर लगाए गए है। अन्य व्यवस्था भी शीघ्र की जाएगी।

1500 आबादी, 3 टैंकर

बाड़ौलिया पंचायत मुख्यालय की लगभग 1500 की जनसंख्या है। इसके आधार पर 3 टैंकर लगाए जा सकते है। जो पंचायत ने लगा दिए है।

रावतभाटा. सड़क पार कर पालिका के नल से पानी भरते हुए वार्ड 5 के लोग।

इन इलाकों में समस्या

रावतभाटा शहर के वार्ड 3, 5 में भी पेयजल संकट बना हुआ है। जलदाय विभाग के अनुसार सड़क किनारे ओएफसी केबल डालने के लिए खुदाई की गई है, जिससे पाइपलाइन टूट गई और पानी की आपूर्ति बाधित हो गई। इससे पेयजल संकट गहरा गया। जलदाय विभाग के अभियंता भोलासिंह रावत ने बताया कि वॉल्व की चूड़ी में गड़बड़ी होने से भी आपूर्ति प्रभावित हुई, जिसे ठीक किया गया है।

रावतभाटा. प्रदर्शन कर रही महिलाओं को समझाती सरपंच कालीबाई मीणा।

गर्मी में बढ़ी पानी की खपत, नहरें भी बंद

ग्राम पंचायत बाड़ौलिया की ओर से पेयजल संकट से निपटने के लिए 3 माह पूर्व ही कलेक्टर को पत्र भेजकर नया बोरिंग खुदवाने की स्वीकृति मांगी गई थी, लेकिन अभी तक स्वीकृति नहीं मिली है। इस कारण पेयजल का संकट बना हुआ है। गर्मी आने से पानी की खपत भी बढ़ गई है। वहीं नहर भी बंद हो गई है।

3 माह में भी नहीं मिली 5 बोरिंग की स्वीकृति

सरपंच कालीबाई मीणा ने बताया कि ग्राम पंचायत मुख्यालय पर 2 ट्यूबवैल, नागणी में 1, जावराखुर्द में 1, मऊपुरा में एक ट्यूबवेल खुदवाने के लिए 3 माह पूर्व ही आवेदन भेजे गए थे, लेकिन अभी तक स्वीकृति नहीं मिली है। इससे पंचायत क्षेत्र के गांवों में पेयजल संकट की स्थिति बनी हुई है।

गर्मी में बढ़ी पानी की खपत, नहरें भी बंद

ग्राम पंचायत बाड़ौलिया की ओर से पेयजल संकट से निपटने के लिए 3 माह पूर्व ही कलेक्टर को पत्र भेजकर नया बोरिंग खुदवाने की स्वीकृति मांगी गई थी, लेकिन अभी तक स्वीकृति नहीं मिली है। इस कारण पेयजल का संकट बना हुआ है। गर्मी आने से पानी की खपत भी बढ़ गई है। वहीं नहर भी बंद हो गई है।

3 माह में भी नहीं मिली 5 बोरिंग की स्वीकृति

सरपंच कालीबाई मीणा ने बताया कि ग्राम पंचायत मुख्यालय पर 2 ट्यूबवैल, नागणी में 1, जावराखुर्द में 1, मऊपुरा में एक ट्यूबवेल खुदवाने के लिए 3 माह पूर्व ही आवेदन भेजे गए थे, लेकिन अभी तक स्वीकृति नहीं मिली है। इससे पंचायत क्षेत्र के गांवों में पेयजल संकट की स्थिति बनी हुई है।

रावतभाटा में पाइप लाइन फूटने से जल संकट बड़ौलिया में 2 दिन से पानी नहीं, विरोध में जाम
X
रावतभाटा में पाइप लाइन फूटने से जल संकट बड़ौलिया में 2 दिन से पानी नहीं, विरोध में जाम
रावतभाटा में पाइप लाइन फूटने से जल संकट बड़ौलिया में 2 दिन से पानी नहीं, विरोध में जाम
Click to listen..