रावतभाटा

--Advertisement--

पारा 44.6 डिग्री, दोपहर 12 बजे बाद नहीं चलेंगे विद्यालय

भीषण गर्मी का दौर शुरू हो गया, लेकिन अभी स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश शुरू नहीं हुए। छोटे छोटे बच्चे भी आग उगलती...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:15 AM IST
भीषण गर्मी का दौर शुरू हो गया, लेकिन अभी स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश शुरू नहीं हुए। छोटे छोटे बच्चे भी आग उगलती गर्मी में घर लौट रहे हैं। लगातार तापमान बढ़ रहा है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 44.6, न्यूनतम 27.5 दर्ज किया गया। जबकि सोमवार को अधिकतम 44.5, न्यूनतम 28.9, रविवार को अधिकतम 41.7, न्यूनतम 28.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

गर्मी बढ़ने के साथ ही छोटे बच्चों को राहत देने के लिए कलेक्टर ने भी एक्शन लिया। दोनों डीईओ के माध्यम से आदेश जारी हो गया कि पांचवीं तक के बच्चों को 11 बजे और 12वीं तक के बच्चों को 12 बजे तक छोड़ना होगा। इसके बाद तक कक्षाएं चलती मिली तो कार्रवाई होगी। सूरज के तेवर और तल्ख नजर आए। दोपहर 12 बजने से पहले ही गर्म हवा के थपेड़े चलने लगे। लोग बाहर निकलने से कतराते रहे। एक सप्ताह से गर्मी बढ़ने के बाद भी स्कूलों खासकर प्राइवेट स्कूलों के बच्चे दोपहर एक से ढाई बजे के बीच की सबसे चिलचिलाती धूप में घर लौट रहे थे।

आंगनबाड़ी सुबह 10 बजे तक ही संचालित होगी

जिले की 1700 से अधिक और रावतभाटा उपखंड की 235 आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन सुबह 7 से 10 बजे तक होगा। आदेश मंगलवार से ही प्रभावी हो गए। विभाग के कार्यालयों का समय पूर्ववत रहेगा। अभी तक आंगनबाड़ी केंद्रों का समय सुबह 8 से दोपहर 12 बजे तक का था।

शिक्षकों को 1:10 बजे तक रुकना होगा

आदेश में स्कूलों में रुकने का समय भी निर्धारित किया है। माध्यमिक शिक्षा के शैक्षिक प्रकोष्ठ अधिकारी शांतिलाल सुथार ने बताया कि शिक्षकों को दोपहर 1:10 बजे तक रुकना होगा।

X
Click to listen..