• Hindi News
  • Rajasthan
  • Rawatsar
  • जनप्रतिनिधि बोले- बिजली कनेक्शन के नाम पर अधिकारी कर रहे गुमराह, एक्सईएन- सर्वे का काम पूरा, एक माह
--Advertisement--

जनप्रतिनिधि बोले- बिजली कनेक्शन के नाम पर अधिकारी कर रहे गुमराह, एक्सईएन- सर्वे का काम पूरा, एक माह में दे देंगे

पंचायत समिति की साधारण सभा की बैठक बुधवार को प्रधान जयदेव भिडासरा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में पानी-बिजली से...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:00 PM IST
जनप्रतिनिधि बोले- बिजली कनेक्शन के नाम पर अधिकारी कर रहे गुमराह, एक्सईएन- सर्वे का काम पूरा, एक माह
पंचायत समिति की साधारण सभा की बैठक बुधवार को प्रधान जयदेव भिडासरा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में पानी-बिजली से संबंधित मुद्दे छाए रहे। जनप्रतिनिधियों ने अधिकारियों पर जनता से जुड़े मुद्दों की अनदेखी के आरोप लगाए। सुबह साढ़े 11 बजे शुरू हुई बैठक में बिजली के मुद्दे पर रणजीतपुरा सरपंच इंद्रजीत शर्मा ने कहा कि डिस्कॉम पिछले ढ़ाई वर्षों से दीनदयाल उपाध्याय योजना के तहत ढाणियों में बिजली कनेक्शन के दावे किए जा रहे हैं लेकिन कनेक्शन नहीं दिए गए। ऐसे में ढाणियां कनेक्शन से वंचित हैं। इस पर एक्सईएन आरके गर्ग ने कहा कि कनेक्शन के लिए जमा हुई फाइलों का सर्वे इसी सप्ताह में पूरा हो जाएगा। एक माह में कनेक्शन दिए जाएंगे। उपप्रधान अमरसिंह सियाग, जोडकियां सरपंच प्रेम महिया, डायरेक्टर श्रवण कुमार, मटोरियावाली ढाणी सरपंच आदि ने इसका समर्थन करते हुए कहा कि जल्द योजना के तहत कनेक्शन दिए जाएं। मटोरियावाली ढाणी सरपंच ने ढाणियों में बिजली तारें ढीली होने की समस्या रखी। पक्काभादवां सरपंच ने जीएसएस के लिए एक बीघा भूमि देने के बाद भी जीएसएस शुरू नहीं होने की समस्या रखी। इस पर एईएन ने कहा कि मार्च माह के बाद जीएसएस को शुरू कराया जाएगा। उपप्रधान अमरसिंह सियाग ने कहा कि पीएचईडी विभाग स्वच्छ पानी के नाम पर जितना खर्च कर रहा है उसका उतना फायदा नहीं मिल रहा है। लीकेज के कारण दूषित पेयजल घरों में पहुंच रहा है। इससे लोगों में बीमारी फैलने की आशंका है। उन्होंने विभाग को सर्वे कराकर समस्या हल करने का का सुझाव दिया।

ढाई साल पहले मंत्री ने एक करोड़ से बनने वाले फिल्टर प्लांट की नींव रखी थी, काम अभी तक अधर में

हनुमानगढ़. पंचायत समिति की बैठक को संबोधित करते वक्ता।

रणजीतपुरा सरपंच ने कहा कि ढाई साल पहले मंत्री ने एक करोड़ की लागत से बनने वाले फिल्टर प्लांट की नींव रखी थी लेकिन काम अभी तक अधर में हैं। इस पर एईएन ने कहा कि जल्द ही प्लांट का काम पूरा कराकर शुरू किया जाएगा। बीडीओ गोपीराम भांभू ने बैठक का संचालन किया। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों से सदस्यों की ओर से रखी गई समस्याएं हल करने का आग्रह किया। बैठक में एसडीएम सुरेंद्र पुरोहित, पीएचईडी एईएन मनेंद्र गोदारा, जेईएन प्रशांत खैरवा, बीईईओ पन्नालाल कड़ेला, डिस्कॉम एईएन राकेश कुमार, सीआई आबकारी शिशुपाल सिंह, बीसीएमएचओ डॉ.ज्योति धींगड़ा, कृषि विभाग के ठाकुर राम, पीडब्ल्यूडी एईएन अनिल अग्रवाल, सीडीपीओ मुकेश तिवारी के अलावा 15 सरपंच व 14 डायरेक्टर मौजूद थे।

स्वास्थ्य केंद्रों पर एएनएम नहीं, प्रसूताओं को ले जाना पड़ रहा रावतसर-हनुमानगढ़

जनप्रतिनिधियों ने कहा कि विभिन्न ग्राम पंचायतों में एएनएम के पद रिक्त हैं। वहीं कई जगह रात के समय एएनएम स्वास्थ्य केंद्रों पर ड्यूटी पर नहीं रहती हैं। इससे डिलीवरी कराने के लिए प्रसूताओं को मजबूरन रावतसर या हनुमानगढ़ ले जाना पड़ता है। सदस्यों ने रणजीतपुरा, लखूवाली, मटोरियावाली ढाणी में एएनएम की नियुक्ति की मांग की। वहीं बीसीएमएचओ से स्वास्थ्य केंद्रों पर स्टाफ को रात्रिकालीन डयूटी के लिए पाबंद करने को कहा। वहीं एएनएम की प्रतिनियुक्ति पर भेजने का सदस्यों ने विरोध किया। ब्लॉक सीएमएचओ ज्योति धींगड़ा ने समस्या हल कराने का आश्वासन दिया।

तीन साल से हर बैठक में उठा रहे जलाशय क्षतिग्रस्त होने की समस्या फिर भी हल नहीं

सरपंच प्रेम महिया ने कहा जोड़कियां में उच्च जलाशय के क्षतिग्रस्त होने की समस्या पिछले तीन साल से उठा रहे हैं लेकिन समस्या हल नहीं हुई। इससे पहले उपप्रधान अमरसिंह ने सड़कों पर गड्ढों के कारण दुर्घटना की आशंका जताते हुए गड्ढे भरवाने को कहा। वहीं कोहला डायरेक्टर श्रवण कुमार ने कोहला से गुरूसर रोड की चौड़ाई बढ़ाने के साथ पुनर्निर्माण की मांग रखी। इसके अलावा भी बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। बैठक में मौजूद अधिकारियों ने समाधान की बात कही।

X
जनप्रतिनिधि बोले- बिजली कनेक्शन के नाम पर अधिकारी कर रहे गुमराह, एक्सईएन- सर्वे का काम पूरा, एक माह
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..