Hindi News »Rajasthan »Sadulshahar» सरहिंद व राजस्थान फीडर के कॉमन प्वाइंट पर पंजाब में आरडी 348 पर कटाव, यहां पानी घटा, किसानों की बारियां प्रभावित

सरहिंद व राजस्थान फीडर के कॉमन प्वाइंट पर पंजाब में आरडी 348 पर कटाव, यहां पानी घटा, किसानों की बारियां प्रभावित

श्रीगंगानगर। पंजाब में फिरोजपुर फीडर के मल्लेवाला हैड से निकलने वाली सरहिंद और राजस्थान फीडर का कॉमन बैंक पंजाब...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 06:05 AM IST

श्रीगंगानगर। पंजाब में फिरोजपुर फीडर के मल्लेवाला हैड से निकलने वाली सरहिंद और राजस्थान फीडर का कॉमन बैंक पंजाब में आरडी 348 के पास टूट गया। इससे सरहिन्द का पानी मरम्मत के लिए खाली की गई राजस्थान फीडर में आ गया। सूचना पाकर पंजाब के नहरी विभाग ने सरहिन्द के पानी को इधर-उधर करने के प्रयासों के तहत बीकानेर फीडर में पानी छोड़ा। सरहिंद की अप-स्ट्रीम की नहरों में पानी छोड़ा गया। नहर के बैंक की मरम्मत का काम चल रहा है। संभवत: रविवार दोपहर तक इसमें पानी छोड़ा जाए। लगभग 5000 क्यूसेक वाली सरहिंद फीडर पंजाब के कई जिलों को सिंचाई पानी की आपूर्ति करती है। इससे फिरोजपुर, फरीदकोट, मुक्तसर, बठिंडा जिलों को सिंचाई पानी मिलता है। इसकी टेल से दो ढाई साै क्यूसेक पानी राजस्थान के लौहगढ़ के पास पुरानी भाखड़ा के जरिए संगरिया एवं सादुलशहर की नहरों को मिलता है। नहर टूटने से उपरोक्त जिलों के अलावा श्रीगंगानगर एवं हनुमानगढ़ जिले के कुछ इलाकों के किसानों की बारियां प्रभावित हुई हैं।

सरहिंद फीडर टूटने से इसका पानी अलग-अलग बांट दिया है। इस कड़ी में बीकानेर फीडर को मल्लेवाला हैड से 2900 क्यूसेक पानी दिया जा रहा है। सरहिंद और राजस्थान फीडर को पंजाब में कॉमन बैंक है। यह पटड़ा टूटने से इसका पानी राजस्थान फीडर में बह गया। राजस्थान फीडर को अभी एक दिन पूर्व ही खाली किया गया था। अधिकारियों का मानना है कि राजस्थान फीडर में पानी का भंडारण नहीं किया गया और पटड़े को दूसरी तरफ से पानी का सपोर्ट नहीं मिला, इसलिए टूट गया। ज्ञात रहे गत वर्ष दोनों नहरों का कॉमन बैंक आरडी-248 के पास टूट गया था। कॉमन बैंक की मरम्मत का मौके पर काम चल रहा है। इसमें रविवार दोपहर तक पानी बढ़ाने की संभावना है।

बीकानेर फीडर में छोड़ा पानी, संगरिया व सादुलशहर के कई क्षेत्रों की नहरों पर असर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sadulshahar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×