Hindi News »Rajasthan »Saipau» भागवत कथा में कृष्ण जन्म पर गाईं बधाइयां, झूमे श्रद्धालु

भागवत कथा में कृष्ण जन्म पर गाईं बधाइयां, झूमे श्रद्धालु

सरमथुरा| विरजा गांव में हीरामन बाबा देव स्थान पर भागवत कथा में कथा वाचक ने भगवान श्रीराम व कृष्ण भगवान के जन्म की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 13, 2018, 07:15 AM IST

सरमथुरा| विरजा गांव में हीरामन बाबा देव स्थान पर भागवत कथा में कथा वाचक ने भगवान श्रीराम व कृष्ण भगवान के जन्म की कथा सुनाई। कथा वाचक पं. नारायण शास्त्री ने कथा का रसपान कराते हुए कहा कि भाद्रपद कृष्ण अष्टमी तिथि की घनघोर अंधेरी आधी रात को रोहिणी नक्षत्र में मथुरा के कारागार में वसुदेव की प|ी देवकी के गर्भ से भगवान श्रीकृष्ण ने जन्म लिया था। द्वापर युग में भोजवंशी राजा उग्रसेन मथुरा में राज्य करता था। उसके आततायी पुत्र कंस ने उसे गद्दी से उतार दिया और स्वयं मथुरा का राजा बन बैठा। कंस की एक बहन देवकी थी, जिसका विवाह वसुदेव नामक यदुवंशी सरदार से हुआ था। वहीं भगवान श्रीराम के जन्म की कथा सुनाकर श्रद्धालुओं को भावविभोर कर दिया। श्रद्धालुओं ने कृष्ण जन्म हर्षोंल्लास से मनाया। बधाइयां गाई गईं साथ ही छैल भी लुटाई गई।

सैंपऊ. रजौरा कलां में चल रही भागवत कथा में कथावाचक आचार्य बृजेश शास्त्री ने भगवान श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं का मनोहारी वर्णन किया। शास्त्री ने भगवान श्रीकृष्ण की बालहठ और माखन चोरी की कथा को सुनाया। उन्होंने कहा कि कन्हैया बड़ी चतुराई से शीला के घर जाकर माखन को चुराते हैं लेकिन पकड़े जाते हैं। शीला माखन चोरी की शिकायत करने कन्हैया को साथ लेकर माता यशोदा के पास चल देती है लेकिन रास्ते में कन्हैया हाथ में दर्द होने का बहाना बनाते हुए अपना हाथ छुड़ाकर शीला को उसके पति का हाथ थमा देते हैं। श्रीकृष्ण की बाल लीला की कथा को सुन श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए।

सरमथुरा. कृष्ण जन्म पर सजी झांकी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Saipau News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: bhaagavt kthaa mein krisn jnm par gaaaeen bdhaaiyaan, jhume shrddhaalu
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Saipau

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×