• Home
  • Rajasthan News
  • Saipau News
  • बदमाशों ने सिंचाई कर रहे किसानों को बंदूक की बटों से पीटा, नकदी लूट ले गए
--Advertisement--

बदमाशों ने सिंचाई कर रहे किसानों को बंदूक की बटों से पीटा, नकदी लूट ले गए

कंचनपुर इलाके के गांव नौरहा और खादर में बीती रात को आधा दर्जन बदमाशों ने सिंचाई कर रहे किसानों से मारपीट की।...

Danik Bhaskar | Jan 18, 2018, 01:25 PM IST
कंचनपुर इलाके के गांव नौरहा और खादर में बीती रात को आधा दर्जन बदमाशों ने सिंचाई कर रहे किसानों से मारपीट की। बदमाशों ने बोरिंग संचालकों को बंदूक के बटों से पीटा। बदमाश किसानों से एक दर्जन से अधिक मोबाइल, डेढ दर्जन टाॅर्च और नगदी लूटकर ले गए। बदमाशों ने किसानों को चिन्ह देकर धमकी दी कि चौथ की रकम पहुंचाए बिना यदि बोरिंगों को चालू किया तो अंजाम बहुत ही बुरा होगा। बोरिंग संचालक घटना को लेकर बुधवार सुबह थाने पहुंचे। जहां उन्होंने पुलिस को अपनी आपबीती सुनाते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की रात करीब 11.30 बजे बदमाशों ने गांव नौहरा में राजेंद्र ठाकुर के बोरिंग पर हमला बोल दिया। बदमाशों ने राजेंद्र को बंदूक की बट से पीटकर घायल कर दिया और बांधकर खेत में पटक दिया। इसके बाद हथियारबंद बदमाशों ने फूंसिया धोबी को धमकाकर उससे मोबाइल व टॉर्च लूट ली। बदमाश जाते-जाते फूंसिया को चिन्ह देकर चौथ भिजवाने के बाद ही बोरिंग चालू करने की धमकी दे गए। इसके बाद बदमाशों ने गांव खादर को निशाना बनाया। यहां हमलावरों ने रामवीर कुशवाह से दो टाॅर्च और एक मोबाइल, रामबाबू कुशवाह से मोबाइल, नकदी, टाॅर्च, सुखराम कुशवाह से मोबाइल व एक टाॅर्च, नंदन सिंह कुशवाह से एक मोबाइल व 1500 रुपए, मबसिया खादर से मोबाईल, टाॅर्च और नकदी, मुकेष खादर से टाॅर्च माेबाइल और एक हजार रुपए लूटकर ले गए। रामरतन कुशवाह से एक टाॅर्च, एक मोबाइल, 1100 रुपए व रामनिवास कुशवाह से मोबाईल और टाॅर्च लूटकर ले गए। इनके साथ भी बदमाशों ने जमकर मारपीट की।

सैंपऊ. बदमाशों के खिलाफ एकत्रित होकर पुलिस थाने जाते हुए ग्रामीण।

चिह्न के तौर पर किसी को आधी बीड़ी तो किसी को माचिस की तीली दे गए

बोरिंग संचालक किसानों ने बताया कि बदमाश सभी को चौथ पहुंचाने के लिए चिन्ह थमाकर गए है। पीड़ित किसानों ने बताया कि बदमाश किसी बोरिंग संचालक को बीड़ी का आधा टुकड़ा तो किसी को माचिस की तीली तो किसी को बीडी के बंंडल का रैपर का कागज चिन्ह के तौर पर देकर गए है। उन्होंने चेतावनी दी है कि चौथ की रकम पहुंचाने के ठिकाने की जानकारी के लिए सभी बोरिंग संचालक अपने मोबाइल नंबरों पर बुधवार शाम पांच बजे संपर्क कर लें। अन्यथा इस दौरान बोरिंग चलाकर सिंचाई करने की तो मार डालेंगे।

लालौनी में बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, ट्रैक्टर छोड़ भागे

सैंपऊ|
महुआखेड़ा तिराहे पर पुलिस को देखकर भाग रहे ट्रैक्टर सवार बदमाशों ने गांव लालौनी में पुलिस टीम पर तड़के चार बजे फायरिंग कर दी। अचानक हुई फायरिंग से पुलिसकर्मी भयभीत हो गए। मौके पर बड़ी संख्या में जाब्ता पहुंचने पर बदमाश ट्रैक्टर छोड़कर भाग गए। पुलिस ट्रैक्टर को उठाकर थाने ले आई। घटना के कारण लालौनी के आसपास के गांवों के लोग सहमे हुए है। पुलिस अधिकारी फायरिंग की घटना से इनकार कर रहे हैं। महुआखेड़ा तिराहे पर तड़के पुलिस गश्ती दल ने एक ट्रैक्टर को रुकने का इशारा किया। ट्रैक्टर में सवार तीन लोगों ने पुलिस को देखते ही ट्रैक्टर की गति बढ़ा दी। मामला संदिग्ध देख पुलिसकर्मियों ने ट्रैक्टर का पीछा शुरू कर दिया। ट्रैक्टर में सवार एक व्यक्ति के पास फावड़ा व दूसरे के पास लाठी थी। कुछ देर तक पीछा करने के बाद जैसे ही ट्रैक्टर सवार गांव लालौनी पहुंचे तो उनके साथी हाथों में लाठी-डंडा लेकर पुलिस के सामने आ गए। और पुलिस से भिड़ गए और कई राउंड फायरिंग कर दी। इसके चलते हमलावरों ने पुलिस को गांव में घुसने से रोक दिया। अचानक हुई फायरिंग से पुलिसकर्मी डर गए। पुलिसकर्मियों ने घटना से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया। इसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस जाब्ता देखकर बदमाश ट्रैक्टर छोड़कर भाग गए। इसके बाद पुलिस ट्रैक्टर को लेकर थाने आ गई। वही हैड कांस्टेबल बदन सिंह ने बताया कि उनके सामने फायरिंग नहीं हुई। इस संबंध में सीओ मोहनलाल दादरबाल का कहना है कि पुलिस गांव लालौनी से एक ट्रैक्टर जब्त कर लाई है। फायरिंग के संबंध में संबंधित एसएचओ से जानकारी की जा रही है।

चोट दिखाता बोरिंग संचालक।

चिह्न के तौर पर दिए बीड़ी के टुकड़े।