--Advertisement--

मायलावास गाेगाजी चौराहा के पास रेलवे लाइन पर हुई घटना

भास्कर संवाददाता | मायलावास मायलावास के गोगाजी चौराहा के पास रेल लाइन के अंडरब्रिज के ऊपर से पटरी पार करते समय...

Dainik Bhaskar

May 27, 2018, 06:20 AM IST
मायलावास गाेगाजी चौराहा के पास रेलवे लाइन पर हुई घटना
भास्कर संवाददाता | मायलावास

मायलावास के गोगाजी चौराहा के पास रेल लाइन के अंडरब्रिज के ऊपर से पटरी पार करते समय एक लड़की का पैर फिसल गया और वह पटरी पर गिर गई। इसी दौरान समदड़ी से जालोर की ओर जाने वाली डेमो ट्रेन ऊपर आ गई। बालिका पटरियों के बीच होने के कारण ट्रेन के आधे डिब्बे ऊपर से गुजरने के बाद भी खरोंच तक नहीं आई। आधे डिब्बे ऊपर से गुजरने के बाद लोको पायलट ने गाड़ी को रोका तथा लड़की को पटरियों के बीच से बाहर निकाला। शनिवार को आहोर तहसील के बावड़ी निवासी प्रियंका कुमारी अपने ननिहाल धीरा से घर जाने के लिए निकली थी। शनिवार सुबह 9 बजे मायलावास चौराहा पर उतरी। वहां पर गोगाजी चौराहा पर बस पकड़ने के लिए रेल लाइन को पार कर रही थी। सामने से धीमी गति से डेमो ट्रेन आ रही थी, लेकिन प्रियंका ने जल्दबाजी करते हुए ट्रैक पार करने की सोची। इस दौरान उसका पैर ट्रैक पर फिसल गया तथा ठोकर लगने से नीचे गिर गई। सामने से आ रही ट्रेन को देखकर वह घबरा गई तथा ऊपर उठने की बजाय पटरी के बीच ही लेट गई। वहीं लोको पायलट ने रेल को रोकना चाहा, लेकिन रुकी नहीं तथा बालिका के ऊपर से ही गुजर गई। आधे डिब्बे ऊपर से गुजरने के बाद रेल रुकी तथा कार्मिकों ने प्रियंका को रेल के नीचे से सकुशल निकाला तथा मोकलसर रेलवे स्टेशन भेजा।

पटरी पार कर रही बालिका का पैर फिसला, ट्रेन के आधे डिब्बे ऊपर से निकले, ट्रैक के बीच लेटकर बचाई जान

छह माह पहले दो सहेलियां की यहीं पर हुई थी दुर्घटना में मौत, फिर भी सबक नहीं ले रहे लोग

मायलावास गोगाजी चौराहा पर रेल लाइन पर हुई यह घटना नई नहीं है, बल्कि पहले भी दुर्घटना में लोगों की जान जा चुकी है। छह माह पूर्व 2 दिसंबर को कम्प्यूटर क्लास को पूरा कर दो सहेलियां घर की तरफ जा रही थी। इस दौरान बस पकड़ने के चक्कर में जल्दबाजी करते हुए रेल पटरी को पार किया। इसी दरम्यान जालोर से समदड़ी की ओर जाने वाले रेल इंजन की चपेट में आ गई और मौके पर ही मौत हो गई।

बालिका को निकालने के लिए ठहरी रेल

लोगों की लापरवाही जिंदगी पर भारी

रेलवे प्रशासन की अनदेखी के कारण ऐसे हादसे हो रहे हैं। दुर्घटना की रोकथाम व लोगों से समझाइश करने को लेकर भी कोई पहल नहीं की जा रही है। बाकायदा मायलावास में अंडरब्रिज बना हुआ है, फिर भी अंडरब्रिज में सड़क निर्माण नहीं होने के कारण लोग रेलवे ट्रैक पार करते हैं। दूसरी ओर लोगों की लापरवाही भी हादसे का कारण है। रेल आगमन के समय भी लोग जल्दबाजी करते हुए ट्रैक पार करने में लगे रहते है, ऐसे में हादसा हो जाता है। ग्रामीणों ने लोगों की सुविधा के लिए रेलवे जनरल मैनेजर टीपी सिंह से मुलाकात कर अंडरब्रिज को ठीक करवाने सहित विभिन्न समस्याओं से अवगत करवाया था, फिर भी कोई ध्यान नहीं दिया गया।

X
मायलावास गाेगाजी चौराहा के पास रेलवे लाइन पर हुई घटना
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..