Hindi News »Rajasthan »Sanchore» हेल्पलाइन 24 घंटे शुरु रखने का मुद्दा उठाएंगे सांचौर विधायक

हेल्पलाइन 24 घंटे शुरु रखने का मुद्दा उठाएंगे सांचौर विधायक

जिलेवासियों के लिए आपात स्थितियों में वरदान साबित होने वाली हेल्पलाइन (सहायता केंद्र-02973-222216) को 24 घंटे चालू रखने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 04:10 AM IST

हेल्पलाइन 24 घंटे शुरु रखने का मुद्दा उठाएंगे सांचौर विधायक
जिलेवासियों के लिए आपात स्थितियों में वरदान साबित होने वाली हेल्पलाइन (सहायता केंद्र-02973-222216) को 24 घंटे चालू रखने के लिए जिले के जनप्रतिनिधि भी आवाज उठाने लगे हैं। एक ओर जहां सांचौर विधायक सुखराम विश्रोई का कहना है कि वह हेल्पलाइन शुरु रखने के मुद्दे को विधानसभा में उठाएंगे, वहीं अन्य जनप्रतिनिधियों का भी कहना है कि आपात स्थिति में जिलेवासियों के लिए सहायक साबित हुई हेल्पलाइन को 24 घंटे शुरु रखने के लिए वह कलेक्टर से वार्ता करेंगे। सांचौर विधायक विश्रोई का कहना है कि गत वर्ष हुई अतिवृष्टि से जिले के अधिकांश क्षेत्रों में बाढ़ के हालात बने जिसमें लोगों के लिए हेल्पलाइन वरदान साबित हुई थी। रात्रि में हेल्पलाइन को बंद कर दिया गया है, अगर किसी के साथ रात्रि में कोई दुर्घटना घटित होती है तो उसे इमरजेंसी में कैसे सहायता मिलेगी। हर व्यक्ति के पास प्रशासनिक या संबंधित विभागीय अधिकारियों के नंबर नहीं होते हैं जो उन्हें एक कॉल पर हेल्पलाइन से उपलब्ध हो जाते हैं। ऐसे में गत 12 सालों से संचालित हो रही इस जनहितार्थ सेवा को बंद करना उचित नहीं है। वहीं हेल्पलाइन 24 घंटे शुरु रखे जाने को लेकर जिले के अधिकांश जनप्रतिनिधियों ने भी अपना समर्थन दिया है।

चालू रखने के समर्थन में, कलेक्टर से करेंगे वार्ता

हेल्पलाइन जिलेवासियों के लिए आपात स्थितियों में हमेशा सहायक रही है। हम इसे चालू रखने के समर्थन में है। कलेक्टर स्टाफ की कमी का हवाला दे रहे हैं मगर सामंजस्य बिठाकर कलेक्टर से वार्ता कर हेल्पलाइन को चालू रखने का पूरा प्रयास करेंगे। -रवींद्रसिंह बालावत, भाजपा जिलाध्यक्ष

हेल्पलाइन 24 घंटे शुरु रखने के पक्ष में आगे आए जिले के जनप्रतिनिधि, रात में सेवा बंद करने से जनप्रतिनिधि भी नाराज

विधायक बिश्नोई

सांसद व विधायक से वार्ता कर चालू रखने के लिए दवाब बनाएंगे

हेल्पलाइन पर लोगों से जुड़ी छोटी-बड़ी समस्याओं का कभी भी त्वरित निस्तारण होता है। इसको बंद किया जाना कतई उचित नहीं है। हम इसे चालू रखने के पक्ष में है। सांसद व विधायक से वार्ता कर इसे चालू रखने का भरसक प्रयास करेंगे। -जबरसिंह तूरा, प्रधान, सायला

ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए फायदेमंद

आज जिले में अधिकांशत: लोग हेल्पलाइन के बारे में जानते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाली छोटी-मोटी घटनाओं में लोगों को हेल्पलाइन के मार्फत त्वरित सहायता मिल जाती है। ऐसे में लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो रही हेल्पलाइन को बंद किया जाना उचित नहीं है। इस संबंध में कलेक्टर से वार्ता करेंगे। -डॉ. समरजीतसिंह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष

चालू रखना लोगों के लिए सुविधाप्रद

लोगों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन को 24 घंटे शुरु रखना चाहिए। अगर स्टाफ की समस्या है तो जिला प्रशासन अन्य विभागों की तर्ज पर संविदा पर कार्मिकों की नियुक्ति कर हेल्पलाइन को अनवरत रख सकता है। इसे बंद करना जनता के हित में सही नहीं होगा। -राजेश्वरी कंवर, आहोर प्रधान

बंद किया जाना उचित नहीं

गत वर्ष अतिवृष्टि के दौरान तथा आपात परिस्थितियों में विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में हेल्पलाइन सहायक साबित हुई है। इसे बंद किया जाना कतई उचित नहीं है। इसे 24 घंटे चालू रखने के लिए कलेक्टर से वार्ता करेंगे। -रमीला मेघवाल, रानीवाड़ा प्रधान

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sanchore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×