--Advertisement--

गुड़ा बालोतान में शीतला माता पैदल संघ का स्वागत

भास्कर न्यूज |गुड़ा बालोतान कस्बे में शुक्रवार शाम को आम चौहटे पर जालोर में स्थित शीतला माता मंदिर दर्शन के लिए...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 04:10 AM IST
भास्कर न्यूज |गुड़ा बालोतान

कस्बे में शुक्रवार शाम को आम चौहटे पर जालोर में स्थित शीतला माता मंदिर दर्शन के लिए जाने वाले पैदल संघ का ग्रामवासियों और सुथार समाज के लोगों ने स्वागत किया।

इस दौरान कलश यात्रा भी निकाली गई। स्थानीय सुथार समाज के कांतीलाल सुथार ने बताया कि शीतला माता भक्त चंपाबेन एवं अरविंद भाई गुजराती के सानिध्य में हरजी से जालोर तक जाने वाले शीतला माता पैदल संघ के शुक्रवार शाम को गुड़ा बालोतान में पहुंचने पर पूर्व सरपंच मोहनसिंह बालोत एवं ग्राम सहकारी समिति अध्यक्ष समंदरसिंह बालोत के नेतृत्व में सुथार समाज समेत ग्रामवासियों की ओर से स्वागत किया गया। शनिवार को अगवरी गांव में पहुंचने पर सरपंच शांतिलाल सुथार के नेतृत्व में सौमेया किया गया।

आयोजन

कस्बे समेत अगवरी व उम्मेदपुर गांव में भी किया गया पैदल संघ का स्वागत

गुडा बालोतान. पैदल संघ का स्वागत करते ग्रामवासी एवं सुथार समाज के नागरिक।

भास्कर न्यूज |गुड़ा बालोतान

कस्बे में शुक्रवार शाम को आम चौहटे पर जालोर में स्थित शीतला माता मंदिर दर्शन के लिए जाने वाले पैदल संघ का ग्रामवासियों और सुथार समाज के लोगों ने स्वागत किया।

इस दौरान कलश यात्रा भी निकाली गई। स्थानीय सुथार समाज के कांतीलाल सुथार ने बताया कि शीतला माता भक्त चंपाबेन एवं अरविंद भाई गुजराती के सानिध्य में हरजी से जालोर तक जाने वाले शीतला माता पैदल संघ के शुक्रवार शाम को गुड़ा बालोतान में पहुंचने पर पूर्व सरपंच मोहनसिंह बालोत एवं ग्राम सहकारी समिति अध्यक्ष समंदरसिंह बालोत के नेतृत्व में सुथार समाज समेत ग्रामवासियों की ओर से स्वागत किया गया। शनिवार को अगवरी गांव में पहुंचने पर सरपंच शांतिलाल सुथार के नेतृत्व में सौमेया किया गया।

मेघवाल समाज का स्नेह मिलन समारोह आयोजित

सांचौर | शहर के वार्ड संख्या 25 में गुरुवार रात्रि व शुक्रवार को मेघवाल स्नेह मिलन समारोह व कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ। मेघवाल युवा परिषद एवं सामाजिक विकास संस्था सांचौर व चितलवाना के अध्यक्ष रमेश बॉस ने बताया कि समारोह में राष्ट्रीय कवि राहुल नागपाल, शशि भूषण वाराणसी से शिव कुमार सागर ने श्रोताओं को भीमवादी विचारधारा के तरानों से बांधे रखा। सांस्कृतिक कार्यक्रम में कंवराराम पारिक, भरत डांगी, सीमा राठौड़, उर्मिला बेन, श्रद्धा वाणिया, हितेश डाबी ने भजनों की प्रस्तुति दी। इस दौरान बड़ी संख्या में समाज के लोगों ने भाग लिया।