• Home
  • Rajasthan News
  • Sanchore News
  • समाज की संस्थाओं को नियमानुसार जमीन का आवंटन : कृपलानी
--Advertisement--

समाज की संस्थाओं को नियमानुसार जमीन का आवंटन : कृपलानी

नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने मंगलवार को राज्य विधानसभा में आश्वासन दिया है कि सांचौर...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 06:15 AM IST
नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने मंगलवार को राज्य विधानसभा में आश्वासन दिया है कि सांचौर में विभिन्न समाज की संस्थाओं को जमीन आवंटित कर कब्जा दिलवाने के लिए नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। वे विधानसभा में शून्यकाल के दौरान विधायक सुखराम विश्नोई की ओर से पर्ची के माध्यम से उठाए विषय पर हस्तक्षेप करते हुए जबाव दे रहे थे। इस विषय को लेकर विधायक और मंत्री के बीच नोकझोंक भी हुई। विधायक ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की पिछली सरकार ने समाजों पट्टे देने का काम किया तो उस समय भाजपा ने रेवडिय़ां बांटने की बात कही थी। अब यह सरकार स्वयं भी पट्टे देने का काम कर रही है, क्या ये रेवडिय़ां नहीं है। विधायक ने कहा कि सांचौर विधानसभा क्षेत्र में जाट, विश्नोई, पुरोहित, चौधरी, सुथार, माली, वैष्णव, भील, कोली, नाई, मेघवाल समाज के छात्रावास और धर्मशालाएं बनी हुई हैं। नगर पालिका में इनकी पत्रावलियां लगी है, लेकिन इनको पट्टे जारी नहीं किए जा रहे हैं। उन्होंने जयपुर के सिरोली में अखिल भारतीय राजस्थान जाटव महासभा का पट्टा रोकने का मुद्दा भी उठाया।

इस पर मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने कहा कि मंत्रिमंडल ने हाल ही में नगरीय विकास विभाग की ओर से 40 व स्वायत्त शासन विभाग की ओर से 12 सामाजिक संस्थाओं के आवंटन को बहाल किया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से इस संबंध में नवीन भूमि आवंटन नीति.2015 जारी की है। इस नीति के तहत स्थानीय निकाय को आरक्षित दर व प्रशासनिक शुल्क वसूल कर सामाजिक संस्थाओं को भूमि आवंटन करने के अधिकार प्रदान किये गये है। भूखंड की कीमत में रियायत या नियमों में शिथिलता के प्रस्ताव राज्य सरकार को प्राप्त होने पर गुणावगुण के आधार पर सकारात्मक निर्णय किया जाता है। नगरपालिका सांचौर से प्राप्त सूचना अनुसार वर्ष 2013 में 12 सामाजिक संस्थाओं को भूमि आवंटन नहीं किया गया है। नगरपालिका सांचौर में 13 सामाजिक संस्थाओं ने भूमि आवंटन के लिए आवेदन प्रस्तुत किए हैं। नगरपालिका सांचौर को सभी लम्बित आवेदन पत्रों का भूमि आवंटन नीति.2015 के अन्तर्गत निस्तारण करने के लिए निर्देशित किया जा रहा है। उन्होंने जाटव महासभा के पट्टे के बारे में जानकारी लेकर मदद करने का आश्वासन दिया।

विधानसभा

विधानसभा में विधायक सुखराम विश्नाेई ने उठाया मुद्दा, विधायक और मंत्री के बीच हुई नोकझोंक