Hindi News »Rajasthan »Sanchore» जाखड़ी से तीन दिन पहले लापता बालक की हत्याकर शव घर से 1 किमी दूर झाड़ियों में फेंका

जाखड़ी से तीन दिन पहले लापता बालक की हत्याकर शव घर से 1 किमी दूर झाड़ियों में फेंका

परिवार में का इकलौता सहारा था पुष्पेंद्र परिजनों के मुताबिक पुष्पेंद्र एक निजी स्कूल में छठी कक्षा में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 06:20 AM IST

जाखड़ी से तीन दिन पहले लापता बालक की हत्याकर शव घर से 1 किमी दूर झाड़ियों में फेंका
परिवार में का इकलौता सहारा था पुष्पेंद्र

परिजनों के मुताबिक पुष्पेंद्र एक निजी स्कूल में छठी कक्षा में पढ़ता था। अध्यापकों के अनुसार पढ़ने में मेधावी पुष्पेंद्र खेलकूद की गतिविधियों में भी भाग लेता था। पुष्पेंद्र उसके परिवार का इकलौता पुत्र ही था। शव मिलने पर मां तो बेसुध सी हो गई है। जाखड़ी गांव में भी घटना की जानकारी मिलने के बाद से ही शोक का माहौल है।

परिजनों ने दर्ज कराई थी गुमशुदगी

जानकारी के अनुसार जाखड़ी निवासी पुष्पेंद्रसिंह (12) पुत्र दलवीरसिंह रविवार शाम उसकी मां को खेलने का कहकर घर से निकला था, लेकिन देर शाम तक जब वापस घर नहीं लौटा तो परिजनों को चिंता हुई और उन्होंने आसपास के घरों में उसकी काफी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। परिजनों ने सोमवार को पुलिस थाना रानीवाड़ा में गुमशुदगी दर्ज करवाई। मंगलवार दोपहर करीब बारह बजे चारणवास गांव से जाखड़ी की ओर जा रहे अशोक कुमार मेघवाल ने मामाजी मंदिर के पास दुर्गंध आने पर पास जाकर देखा तो आकड़े के पौधे पर बालक का शव पड़ा नजर आया। इस दौरान उसने पास के खेत वालों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर रानीवाड़ा ले आई। फिलहाल, पुलिस ने परिजनों की रिपोर्ट पर मर्ग दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है।

रायड़े के भूसे में दबा दिया था शव

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक बालक की हत्या हुई है। बालक के पैरों व सिर पर चोट के निशान हैं, वहीं गले की हड्डी भी टूटी हुई है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि आरोपियों ने गला दबाकर बच्चे की हत्या की है। बालक के पहने हुए कमीज में रायड़े का भूसा मिला है। लिहाजा, आशंका है कि आरोपियों ने मौत के बाद रायड़े के भूसे में शव दबाया, बाद में बदबू आने पर खेत में फेंका है। जिससे गर्मी में शव खुला रहने से सड़ने लग गया। रानीवाड़ा थानाधिकारी भूपेंद्रसिंह का कहना है कि शव मिलने के बाद मर्ग दर्ज कर लिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही यह सामने आ पाएगा कि उसकी मौत कैसे हुई?

गले की हड्डी टूटी हुई है

बालक के पैरों व सिर पर वार किए हुए हैं। उसके अलावा उसके गले की हड्डी भी टूटी हुई है। गला दबाने से मौत के कारण सामने आए हैं। - सुरेश बिश्नोई व असीम परिहार , चिकित्सक

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sanchore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×