Hindi News »Rajasthan »Saramathura» थ्री फेज लाइन सिंगल फेज में बदली, बालिका छात्रावास में करंट, 4 छात्राएं व कुक झुलसी

थ्री फेज लाइन सिंगल फेज में बदली, बालिका छात्रावास में करंट, 4 छात्राएं व कुक झुलसी

भास्कर संवाददाता|सरमथुरा/आंगई शनिवार सुबह छात्रावास अधीक्षक की तत्परता से बड़ा हादसा होने से टल गया। जोरगढ़ी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 25, 2018, 07:20 AM IST

थ्री फेज लाइन सिंगल फेज में बदली, बालिका छात्रावास में करंट, 4 छात्राएं व कुक झुलसी
भास्कर संवाददाता|सरमथुरा/आंगई

शनिवार सुबह छात्रावास अधीक्षक की तत्परता से बड़ा हादसा होने से टल गया। जोरगढ़ी स्थित अनुसूचित जनजाति बालिका छात्रावास के भवन में अचानक करंट दौड़ने लग गया। करंट का पता लगते ही छात्रावास अधीक्षक ने लाइन को ही बंद कर दिया, जिससे बड़ा हादसा टल गया। हादसे में चार बालिकाओं सहित महिला कुक झुलस हो गई। छात्रावास अधीक्षक ने 104 एंबुलेंस पर फोन कर तत्काल मदद करने की गुहार लगाई तथा एंबुलेंस की सहायता से घायल बालिका व महिला कुक को अस्पताल में भर्ती कराया।

हादसा में चार बालिका सहित महिला कुक झुलस हुई है जिनका अस्पताल में प्राथमिक उपचार करने के बाद छुट्टी कर दी गई है। छात्रावास अधीक्षक दुर्गेश परमार ने बताया कि शनिवार सुबह 8 बजे करीब अचानक छात्रावास के भवन में करंट दौड़ने लग गया। करंट ने छात्रावास की दीवार, खिड़की, बाथरूम व नलों को चपेट में ले लिया। करंट की चपेट में आने से छात्रावास में रह रही चार छात्राएं झुलस गईं। वहीं छात्रावास के रसोई घर में खाना बनाने वाली एक महिला को भी बिजली ने अपने चपेट में ले लिया। करंट का पता लगते ही मैन लाइन को बंद कर छात्रावास में बिजली की सप्लाई को बंद किया गया तथा झुलसी बालिकाओं व महिला कुक को अस्पताल में भर्ती कराया। हादसे में झुलसी बालिका व महिला कुक की हालत में सुधार है। जिन्हे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

छात्रावास की छात्राओं ने प्रशासन के खिलाफ किया प्रदर्शन

हादसे के बाद छात्रावास में विरोध प्रदर्शन करतीं छात्राएं।

नहाते, बर्तन धोते, बक्सा खोलते, खिड़की पकड़ते ही लगा छात्राओं को लगा करंट

शनिवार को आवासीय बालिका छात्रावास में बालिकाएं स्कूल जाने की तैयारी कर रही थी इसी दौरान कुक पिंकी सैन ने खाना बनाने के लिए नल पर बर्तन साफ करना शुरू किया तो महिला कुक करंट की चपेट में आ गई। वहीं छात्रा प्रियंका ने बक्सा खोला तो करंट लग गया, इसीप्रकार शशि व हरकेसी ने खिड़की को पकड़ा तो करंट की चपेट में आ गई। छात्रावास प्रशासन ने तीन छात्राएं सहित महिला कुक के घायल होने की सूचना मिली थी लेकिन जैसे ही छात्राएं बाथरूम में गई छात्रा प्रीती अचेत अवस्था में बाथरूम में पड़ी हुई थी। छात्रावास प्रशासन ने घायल छात्राओं सहित महिला कुक का प्राथमिक उपचार कराया है जिनके स्वास्थ्य में सुधार है। घटना के बाद छात्रावास में रहने वाली छात्राओं ने प्रशासन के खिलाफ नाराजगी जताई है। वहीं लापरवाही को लेकर छात्रावास के गेट पर विरोध-प्रदर्शन किया। हादसे के बाद छात्राओं ने छात्रावास को असुरक्षित मानते हुए व्यवस्थाओं को दुरूस्त करने की मांग की है। हादसा से बालिकाएं भयभीत है। हादसा की जानकारी छात्रावास अधीक्षक ने उच्च अधिकारियों को दी है।

छात्रावास में करंट दौड़ने से ये छात्राएं झुलसी

पहले भी दो बार घट चुकी है करंट की घटना

उपखंण्ड के आंगई में स्थित जोरगढी बालिका आवासीय छात्रावास में पूर्व में दो बार करंट की घटना घट चुकी है लेकिन छात्रावास संचालकों ने घटना को नजरअंदाज करते हुए व्यवस्था को दुरूस्त कराना उचित नही समझा जिससे शनिवार को बडा हादसा होने से टल गया। छात्रावास की वार्डन दुर्गेश परमार ने बताया कि छात्रावास में बिजली लाइन अव्यवस्थित होने के कारण करीब एक वर्ष से बाथरूम व किचन में बिजली के झटके लग रहे थे। पूर्व में दो बार करंट लगने से बालिकाएं घायल भी हो चुकी थी जिसकी जानकारी उच्च अधिकारियो को दे दी गई थी। शनिवार को अचानक बिल्डिंग में करंट आने से चार बालिकाएं सहित महिला कुक घायल हुई है।

डिस्काॅम अधिकारियों ने हादसे के लिए छात्रावास प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है। डिस्काॅम के सहायक अभियंता जीवनराम चौधरी ने बताया कि छात्रावास प्रबंधन द्वारा छात्रावास के लिए थ्री फेस का विद्युत कनेक्शन लिया हुआ है लेकिन छात्रावास प्रबंधन ने थ्री फेज लाइन को सिग्गल फेज में कन्वर्ट किया हुआ है। जिसके कारण हादसा घटित हुआ है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Saramathura News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: थ्री फेज लाइन सिंगल फेज में बदली, बालिका छात्रावास में करंट, 4 छात्राएं व कुक झुलसी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Saramathura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×