Hindi News »Rajasthan »Saramathura» पत्नी और बेटे के साथ गमी में गया था रामकुमार झिझनी पुलिया पर हुए हादसे में तीनों की मौत

पत्नी और बेटे के साथ गमी में गया था रामकुमार झिझनी पुलिया पर हुए हादसे में तीनों की मौत

सोमवार को झिझनी की पुलिया पर हुए जीप व डंपर भिडं़त में सुनकई निवासी रामदयाल के पुत्र, पुत्रवधू सहित पौत्र की मौत हो...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 11, 2018, 05:10 AM IST

सोमवार को झिझनी की पुलिया पर हुए जीप व डंपर भिडं़त में सुनकई निवासी रामदयाल के पुत्र, पुत्रवधू सहित पौत्र की मौत हो गई। जो रिश्तेदारी में गमी में फिरने कांगारौल के पास गांव में जा रहा थे। हादसे की खबर लगते ही गांव में मातम छा गया।

मंगलवार सुबह तीनों के शव गांव में पहुंचे चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। ग्रामीणों ने परिजनों व रिश्तेदारों को ढांढ़स बधाते हुए हिम्मत दी। घर से एक साथ तीन अर्थी उठने देख सभी की आंखे नम हो गईं। इस दौरान पूरे गांव में मातम छा गया। ग्रामीणों ने बताया कि रामकुमार फुफिया ससुर के यहां मौत होने पर फिरने के लिए परिवार सहित गया हुआ था। गौरतलब है कि रामदयाल के चार पुत्र है जिसमें से रामकुमार की ही शादी हुई है। रामकुमार के दो पुत्र व एक पुत्री है जिसमें से हादसे के दौरान एक पुत्र की भी मौत हो गई है। रामदयाल का परिवार गरीब में गांव में ही जीवन यापन कर रहा है।

विलाप करते परिजन।

भाई से मिलकर लौट रहा था पुष्पेन्द्र

जगनेर ब्लॉक के गांव नौनी निवासी 16 वर्षीय पुष्पेन्द्र पुत्र विनोद शर्मा अपने बड़े भाई राहुल से आगरा दो दिन पहले मिलने पहुंचा था। वह भाई से मिलकर सोमवार को आगरा से लौट रहा था, डंफर व जीप की भिड़त से वह बुरी तरह जख्मी हो गया था सिर मे गहरी चोट होने के कारण परिजनों ने उसे एसआर हॉस्पिटल मे भर्ती कराया। इलाज के दौरान देर रात्रि में पुष्पेन्द्र ने दम तोड़ दिया जिससे परिवार मे कोहराम मच गया। लडक़े की मौत से परिवार के लोग सदमे में है। हादसे मे बच्चे की मौत से पिता विनोद शर्मा, माँ मीना देवी,भाई राहुल, हरिओम, बहन चंचल, प्राची, नन्दनी, दादा सीताराम, दादी रामवती, एवं परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। बच्चे की मौत के बाद नौनी शोक मे डूबा हुआ है।

हादसे में किसी ने खोया पिता को किसी ने मां

मां के गम में बेहोश हुए बच्चे

वहीं जीप चालक जीतू सिंह की मौत से उसके परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। जगनेर निवासी महिला गीता देवी की शव देर रात गांव में पहुंच गया जिनका अंतिम संस्कार गांव उसर्रा में सुबह आठ बजे गमगीन माहौल में किया गया। मृतका की एक 14 वर्ष की बेटी वर्षा और 11 वर्र्ष का एक बेटा है। बच्चों के सिर से मां का साया उठने से रोने से बुरा हाल है। रो रोकर बच्चे बेहोश हो जाते है।

जगनेर | सोमवार को झिझनी की पुलिया पर हुए हादसे में मृतकों के परिजनों के आंसू थम नहीं रहे है। वहीं एक साथ 8 लोगों की मौत से हो गई थी। गुगांबद निवासी राजेन्द्र की सडक़ हादसे में मौत के बाद शव रात्रि डेढ़़ बजे उनके घर पर पहुंचा। सुबह दस बजे में गांव में अंतिम संस्कार हुआ। मृतक की सात साल पहले बीमारी से प|ी की मौत हो गई थी। मृतक के तीन लड़के और दो लडक़ी है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Saramathura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×