--Advertisement--

बरवाड़ा में देवनारायण आवासीय छात्रावास बनवाने की मांग तेज

संसदीय सचिव जितेंद्र गोठवाल ने विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान संसदीय सचिव ने...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 06:20 AM IST
संसदीय सचिव जितेंद्र गोठवाल ने विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान संसदीय सचिव ने मुख्यमंत्री को ग्राम चौथ का बरवाड़ा में देवनारायण आवासीय विद्यालय खुलवाने सहित क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि चौथ का बरवाड़ा में देवनारायण आवासीय छात्रावास नहीं होने से क्षेत्र की छात्र-छात्राओं को अध्ययन में काफी असुविधा का सामना करना पड़ता है। कई छात्र-छात्राएं दूर से पढाई के लिए आती हैं, जिन्हें छात्रावास के अभाव में निजी मकानों में किराया देकर रहना पड़ता है, जिन्हें निर्धन परिवार की छात्र-छात्राएं वहन नहीं कर पाते हैं। ऐसी स्थिति में यदि देवनारायण आवासीय छात्रावास खुल जाता है तो क्षेत्र के विद्यार्थियों को इसका लाभ मिल सकता है। साथ ही आवासीय विद्यालय खुल जाने से बालिका शिक्षा को बढावा मिलेगा व शिक्षा का स्तर बढ़ेगा। इस पर मुख्यमंत्री ने संसदीय सचिव की मांग को गंभीरता से सुना तथा जल्दी ही चौथ का बरवाड़ा में देवनारायण आवासीय विद्यालय खुलवाने का आश्वासन दिया।

जाजेड़ा एनिकट निर्माण के लिए स्वीकृत करवाए 60 लाख : संसदीय सचिव गोठवाल क्षेत्र में विकास की गति को बरकरार रखते हुए क्षेत्र के लोगों को एक और नई विकास कार्य की सौगात दी है। संसदीय सचिव के प्रयासों से विधानसभा क्षेत्र खंडार के जाजेड़ा (रजवाना) एनिकट निर्माण के लिए 60 लाख रुपए की राशि स्वीकृत करवा ली है। ग्राम जाजेड़ा में 60 लाख रुपए की लागत से एनिकट का निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ग्राम जाजेड़ा में कई समय से एनिकट की मांग की जा रही थी। इस क्षेत्र में एनिकट नहीं होने से गांव के किसानों को सिंचाई के क्षेत्र में काफी असुविधा का सामना करना पड़ता था। गांव के लोगों की मांग पर संसदीय सचिव ने ग्राम जाजेड़ा (रजवाना) में 60 लाख रुपए की लागत से एनिकट स्वीकृत करवाया। इससे आसपास के कई गांवों को एनिकट का लाभ मिलेगा व क्षेत्र के किसानों को सिंचाई में फायदा मिलेगा।