--Advertisement--

कोटा विवि की परीक्षा की बैठक व्यवस्था निर्धारित

सवाई माधोपुर | शहीद कैप्टन रिपुदमन सिंह राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सवाई माधोपुर में 18 मई को सुबह 11.00 बजे से...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:00 AM IST
सवाई माधोपुर | शहीद कैप्टन रिपुदमन सिंह राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सवाई माधोपुर में 18 मई को सुबह 11.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक आयोजित होने वाली कोटा विश्वविद्यालय कोटा की बीए पार्ट प्रथम पर्यावरण अध्ययन के परीक्षार्थियों की बैठक व्यवस्था निर्धारित की गई है। महाविद्यालय के प्राचार्य ने बताया कि महाविद्यालय के उत्तरी परिसर में रोल नंबर 211177 से 211494 तथा 291425 से 295866 तक परीक्षार्थी बैठेंगे तथा शेष परीक्षार्थी महाविद्यालय के दक्षिणी परिसर में परीक्षा देंगे।

पटरी पर आया तुलाई का कार्य, किसानों को राहत

चौथ का बरवाड़ा | कस्बे में स्थित मंडी में क्रय विक्रय सहकारी समिति की ओर से समर्थन मूल्य पर तोली जा रही फसल का कार्य अब पटरी पर लौटता नजर आ रहा है। पिछले कई दिनों से मंडी में तोला गया माल का उठाव नहीं होने तथा अन्य कारणों से कई दिनों तक किसानों की फसल तुल नहीं पा रही थी। ऐसे में राजफेड की ओर से माल के उठाव में तेजी करने के बाद स्थिति बदली है। मंडि में गुरूवार को 16 मई तक के काटे गए टोकनों का माल तोल लिया गया। ऐसे में लगातार माल तुलने तथा कई दिनों से आ रही रूकावट दूर होने से किसान अपना माल तुलवा रहे हैं, वहीं सरकार की ओर से किसानों के खाते में भुगतान डालने की प्रक्रिया में भी तेजी लाई गई है। केवीएसएस के मैनेजर राजेश जोशी ने बताया कि जिन किसानों के टोकन पेंडिंग चल रहे थे, उनका माल तोला जा रहा है। पहले से अब व्यवस्था काफी सही है तथा सोमवार तक कार्य पूरी तरह से सामान्य कर लिया जाएगा।

अघोषित बिजली कटौती से उपभोक्ता परेशान

शिवाड़ | एक तरफ लोग गर्मी व उमस से बेहाल हैं वहीं दूसरी ओर बार-बार बिजली की अघोषित कटौती उपभोक्ताओं के लिए परेशानी का सबब बनी हुई है। उपभोक्ताओं ने बताया कि पिछले काफी दिनों से अचानक अघोषित बिजली कटौती की जा रही है। कटौती के कारण की जानकारी करने पर अधिकारी कभी मरम्मत के लिए शटडाउन की बात कहते हैं तो कभी फाल्ट आदि की समस्या को बताते हैं। रोचक बात तो यह है कि कस्बे में कहीं भी फाल्ट या मरम्मत आदि का कार्य होने पर पूरे क्षेत्र की बिजली काट दी जाती है। यह मामला कस्बे सहित ईसरदा क्षेत्र का है। उपभोक्ताओं ने बताया कि बिजली निगम द्वारा दिन या रात में कभी भी ट्रिपिंग, फाल्ट व मेंटेनेंस के नाम पर बिजली की अघौषित कटौती की जा रही है। बिजली की अघोषित कटौती के कारण टंकियों में पानी का भराव नहीं होने के कारण नलों में पानी की सप्लाई भी बाधित हो रही है। उपभोक्ताओं ने प्रशासन से विद्युत कटौती बंद करवाने की मांग की है।