--Advertisement--

पद है मगर कार्यालय नहीं

Sawai Madhopur News - मलारना डूंगर|सुनने में अजीब लगे मगर है हकीकत है कि उपखंड मुख्यालय पर जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियन्ता का पद तो...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:10 AM IST
Malarna dungar News - post is but no office
मलारना डूंगर|सुनने में अजीब लगे मगर है हकीकत है कि उपखंड मुख्यालय पर जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियन्ता का पद तो स्वीकृत है लेकिन कार्यालय नहीं है।

मलारना डूंगर तहसील क्षेत्र में कस्बे सहित शेषा, खिरनी, मलारना चौड़ गांव में जलदाय विभाग की स्कीम चल रही है, जिनके करीब दो हजार उपभोक्ता है। इसी प्रकार मलारना डूंगर तहसील क्षेत्र में सैकड़ों हैंडपंप भी है, जिनके रख रखाव की जिम्मेदारी भी जलदाय विभाग करता है। कस्बे में 15 साल से अधिक समय से जेईएन का पद स्वीकृत है। पूर्व में न्यू कॉलोनी में किराए के भवन में जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियन्ता कार्यालय संचालित होता था। विभाग द्वारा अपना भवन तो बनाया नहीं, बल्कि किराए के भवन में संचालित होने वाले कार्यालय को भी बंद कर दिया। प्रतिदिन क्षेत्र के अनेक लोग जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियन्ता कार्यालय में काम से आते, लेकिन ऑफिस नहीं होने के कारण इधर-उधर जेईएन की तलाश कर काम करवाते हैं। वहीं कार्यालय के अभाव में जेईएन को भी परेशानी का समाना करना पड़ता है।

ग्रामीणों का कहना कि मलारना स्टेशन रोड पर बने स्कूल के अनुपयोगी पड़े नवीन भवन को जलदाय विभाग को सौंप दिया जाए तो इस अनुपयोगी पड़े भवन का भी उपयोग हो जाएगा। साथ कार्यालय के लिए भवन उपलब्ध हो जाएगा।

X
Malarna dungar News - post is but no office
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..