पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तालाब से मिट्‌टी का अवैध खनन

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

तहसील खंडार की राजस्व भूमि में स्थित माह के तालाब में खनन माफियाओं द्वारा जेसीबी मशीनों से मिट्‌टी का अवैध खनन धड़ल्ले से किया जा रहा है। इससे तालाब की समतल भूमि गहरी खाइयों में तब्दील होती नजर आ रही है। दूसरी ओर प्रशासन के आदेशों के बाद भी खुलेआम हो रहे
इस अवैध खनन को राजस्व कर्मचारियों द्वारा अनदेखा किया जा रहा है, जिससे खनन माफियाओं के हौसलें बुलंद है।

तालाब में गहरी खाइयां बनने से हादसे को न्योता

कस्बे में बालेर रोड़ के पास माह का तालाब स्थित है। इस तालाब की कुछ भूमि में वर्तमान में पानी भरा हुआ है तथा इसके पास खाली पड़ी तालाब की शेष समतल भूमि में खनन माफियाओं द्वारा बेरोकटोक जेसीबी मशीनों से मिट्‌टी की खुदाई की जा रही है तथा उक्त मिट्‌टी को दर्जनों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में भरकर कर उसका व्यावसायिक उपयोग धड़ल्ले से हो रहा है। जबकि प्रशासन के अनुसार उक्त तालाब में किसी तरह का जेसीबी से मिट्‌टी का अवैध खनन किसी भी हालत में नहीं हो सकता और ना ही उक्त मिट्‌टी का कोई व्यावसायिक उपयोग हो सकता है। इस अवैध कारोबार से तालाब की समतल भूमि में कई स्थानों पर 5 से 10 फुट तक गहरी खाइयां बन जाने से खाइयां दुर्घटनाओं को आमंत्रण दे रही है। खंडार तहसीलदार देवीसिंह का कहना है कि ग्रामीणों द्वारा अवैध खनन की शिकायत मिली थी, जिस पर खंडार हल्का पटवारी पप्पूलाल कोली को तत्काल मौके पर पहुंचकर कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

खंडार| तालाब में दिनदहाड़े जेसीबी से हो रहा मिट्‌टी का अवैध खनन।
खबरें और भी हैं...