विज्ञापन

गुर्जर आरक्षण पर विधेयक पास, समाज शांति बनाए रखें : विश्वेंद्र

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 06:10 AM IST

Sawai Madhopur News - सवाई माधोपुर | राज्य के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने गुर्जर समाज को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार ने गुर्जर समाज...

Sawai Madhopur News - rajasthan news keep passes on the gujjar reservation maintain peace in society vishwendra
  • comment
सवाई माधोपुर | राज्य के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने गुर्जर समाज को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार ने गुर्जर समाज की मांग के अनुरूप गुर्जर आरक्षण पर विधानसभा में विधेयक पास किया है। ऐसे में लोगों की असुविधा को देखते हुए कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला कोई सकारात्मक निर्णय लेकर आवागमन सुचारु करे।

पर्यटन मंत्री सिंह ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान कहा कि विधानसभा में गुर्जर आरक्षण पर विधेयक पास हुआ है, इसके लिए गुर्जर समाज को बधाई देना चाहूंगा। उन्होंने गुर्जर समाज को आश्वस्त किया कि जो वो चाह रहे थे उससे भी मजबूत एक्ट सरकार ने बनाकर दिया है। लेकिन इसका एक प्रोसिजर होता है। विधेयक विधानसभा से डीओपी जाएगा। डीओपी से लॉ विभाग को तथा लॉ विभाग से एक नोट बनकर महामहिम राज्यपाल के पास हस्ताक्षर के लिए जाएगा। अब महामहिम जिस क्षण नोट पर दस्तखत कर दे उसी वक्त ऑफिशियल डॉक्यूमेंट बन जाता है। उन्होंने कहा कि गुर्जर समाज धैर्य रखें, काम हो चुका है, केवल फॉर्मेलिटीज बाकी है। विधेयक में गुर्जर समाज को कही कोई कमी नहीं मिलेगी। हम पांच दिन से सुझाव मांग रहे है, लेकिन गुर्जर समाज की ओर से वार्ता का जवाब नहीं आया। ऐसे में सरकार जो कर सकती थी सरकार ने किया है। गुर्जर समाज को कहीं भी समस्या नहीं आएगी, शांति बनाए रखे। सरकार ने कोई चीज कच्ची नहीं छोड़ी। यह सर्व सम्मति का निर्णय है, पूरी असेम्बली का निर्णय है। जो वो चाह रहे है उस उम्मीद से ज्यादा होगा। लोगों को असुविधा हो रही है। विदेशी पर्यटक फंसे है। सारे मार्ग अवरुद्ध है। ऐसे में डॉक्यूमेंट पढ़कर जल्द से जल्द कर्नल समाज आमजन की समस्या को समाप्त करें।

गुर्जरों की अंगुली टिकी है 5%के नोटिफिकेशन की मांग पर

सवाई माधोपुर | इन दिनों हर जुबा पर हर गली मोहल्ले में गुर्जर आरक्षण के अलावा कोई दूसरा चर्चा का मुद्दा नहीं है। आज सुबह सरकार के चश्मे से इस आंदोलन को देख रहे लोगों को उम्मीद थी के अब गुर्जर आंदोलन समाप्त कर घर चले जाएंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। गुर्जर इस आंदोलन एवं अपनी मांगों को अपने तरीके से देख रहे है। उनकी अंगुली एक ही जगह अटकी हुई है। राज्य सरकार चाहे जो करे, चाहे जैसे करे। अपने घोषणा पत्र के अनुसार गुर्जरों को कहीं से भी लाकर पांच प्रतिशत आरक्षण दें।

जयपुर जाने के ये बचे हैं रास्ते

जानकारी के अनुसार सवाई माधोपुर से अगर किसी को जयपुर जाना है तो उसे यहां से लालसोट फिर दौसा या बस्सी मार्ग से होकर ही जयपुर जाने का रास्ता बाकी बचा है। इस मार्ग पर अभी कही भी जाम नहीं होने से लोग निजी वाहनों से इसी मार्ग से जयपुर जा रहे है।

इसी प्रकार दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर जाम के बाद अब लोग कोटा या सवाई माधोपुर से वाहन किराये पर लेकर वाया दौसा या वाया जयपुर होकर दिल्ली जा रहे हैं। अभी इस मार्ग पर कही भी जाम नहीं होने के कारण दौसा और उसके बाद तीन मार्ग के सभी विकल्प खुले हुए है।

दूसरी तरफ सवाई माधोपुर से दौसा होकर आगरा या भरतपुर जाने वाला मार्ग आगरा हाईवे के सिकंदरा में जाम के कारण बंद हो गया है। इसके बाद दूसरे विकल्प सवाई माधोपुर गंगापुर सिटी से करौली होकर भरतपुर मथुरा का मार्ग भी सवाई माधोपुर से गंगापुर सिटी के बीच एवं गंगापुर सिटी में जाम के अलावा लालसोट गंगापुर सिटी मार्ग पर जाम के कारण बंद हो गया है। ऐसे में अब भरतपुर या आगरा -मथुरा जाने वाले लोगों को अलवर होकर ही रास्ता निकालना पड़ रहा है।

एमपी से कटा संपर्क: सवाई माधोपुर से खंडार मार्ग एवं श्योपुर मार्ग पर कुशालीपुरा में जाम के कारण यह मार्ग पूरी तरह बंद हो चुका है। बहुत ज्यादा परिस्थितियों में लोगों को कच्चे एवं गांवों से होकर निकल रहे रास्तों का सहारा लेकर निजी वाहनों से ही आवागमन करना पड़ रहा है। खास कर सवारी गाड़ियों खास कर बसों का परिवहन जिले में इस समय पूरी तरह ठप है। यहां वहां दस पांच किमी का दायरा पूरा करने वाली बसें ही एक गांव से दूसरे गांव के बीच खौफ के माहौल में कुछ स्थानों पर चल रही है।

X
Sawai Madhopur News - rajasthan news keep passes on the gujjar reservation maintain peace in society vishwendra
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन