विज्ञापन

बायोमैट्रिक सत्यापन में किसान बरत रहे ढिलाई, अटकेंगे कर्ज माफी प्रमाण पत्र

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:56 AM IST

Sawai Madhopur News - कार्यालय संवाददाता | सवाई माधोपुर सहकारी बैंक की पूरी सक्रियता के बावजूद किसानों की ढिलाई की वजह से कर्जमाफी...

Sawai Madhopur News - rajasthan news loans of farmers in biometric verification stolen loan waiver certificate
  • comment
कार्यालय संवाददाता | सवाई माधोपुर

सहकारी बैंक की पूरी सक्रियता के बावजूद किसानों की ढिलाई की वजह से कर्जमाफी प्रमाण-पत्र तैयार करने में देरी हो रही है, क्योंकि ज्यादातर किसान ई मित्र केंद्रों से यूआईडी का बायोमैट्रिक सत्यापन करवाने में बड़े स्तर पर ढिलाई बरत रहे हैं।

गाइड लाइन के अनुसार उन्हीं किसानों को कर्जमाफी प्रमाण-पत्र वरीयता के साथ जारी किए जाएंगे, जिन्होंने सबसे पहले ई-मित्र से यूआईडी का बायोमैट्रिक सत्यापन करवाया है, जबकि हालात ये हैं कि बड़ी संख्या में किसान यूआईडी का बायोमैट्रिक सत्यापन नहीं करवा सके हैं। वही दूसरी ओर ई-मित्र सर्वर के बार बार डाउन रहने से गांवों के किसान ई-मित्रों केंद्रों के चक्कर लगाने को मजबूर हो रहे हैं। अब तक करौली-सवाई के 68 हजार से कम किसानों का डाटा को-ऑपरेटिव बैंक के वेब पोर्टल पर ऋण डाटा अपलोड हो पाया है।

30 नवंबर 2018 तक की अवधि में आने वाले सहकारी बैंक के किसानों का होगा कर्जा माफ

सर्वर नहीं चलने से बॉयोमेट्रिक सत्यापन के लिए इंतजार करते किसान।

डाटा अपलोड नहीं होन से भी सत्यापन का काम अधूरा

दोनों जिलों में 80 हजार से अधिक ग्राम सेवा सहकारी समितियों से फसली ऋण लेने वाले किसानों में से अब तक 68 हजार से कम किसानों का डाटा को-ऑपरेटिव बैंक के वेब पोर्टल पर ऋण डाटा अपलोड हो पाया है, जबकि यह काम फरवरी माह के अंत में पूरा होना था। सवाई माधोपुर बैंक से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक 80 हजार किसानों में से केवल 65 हजार किसानों ने अपना बायोमेट्रिक सत्यापन करवा लिया हैं। योजना के तहत अब तक दोनों जिलों में 80 हजार किसानों में से अब तक 63 हजार किसानों के प्रमाण पत्र बैंक शाखाओं के स्तर पर जारी किए जा चुके हैं।

जिले में कर्जमाफी योजना का काम देख रहे केन्द्रीय सहकारी बैंक सवाई के तहत आने वाली 16 बैंक शाखाएं हैं। इसमें 274 सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से 84 हजार से अधिक किसानों में से 80 हजार किसानों को 243 करोड़ का फसली ऋण एवं खाद उपलब्ध करवाया गया था। योजना के तहत सवाई एवं करौली के 80 हजार किसानों के 243 करोड़ रुपए की कर्जमाफी होगी। सवाई माधोपुर केन्द्रीय सहकारी बैंक का विस्तार सवाई एवं करौली जिले तक हैं। सवाई में 9 तथा करौली में 7 शाखाएं संचालित हैं। दोनों जिलों में 80 हजार किसानों में से 67 हजार 683 किसानों के ई-मित्रों के माध्यम से डाटा अपलोड करवाया जा चुका हैं। 63 हजार 692 किसानों की ऋण माफी ऑनलाइन हो चुकी है।

बायोमेट्रिक सत्यापन में नहीं ले रहे रुचि


फसल कटाई का चल रहा समय


X
Sawai Madhopur News - rajasthan news loans of farmers in biometric verification stolen loan waiver certificate
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन