अफसरों की गलती, फोर स्टार से थ्री स्टार हुआ खंडार का बालिका स्कूल

Sawai Madhopur News - राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय खंडार में कक्षा कक्षों में पर्याप्त स्थान नहीं मिलने के चलते 60 छात्राओं...

Feb 15, 2020, 09:36 AM IST
Khandar News - rajasthan news officer39s mistake four star to khandar39s school of girls from four star

राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय खंडार में कक्षा कक्षों में पर्याप्त स्थान नहीं मिलने के चलते 60 छात्राओं द्वारा टीसी कटाकर विद्यालय छोड़ने के मामले में एक नई बात सामने आई है। विद्यालय प्रशासन की वर्षों की मेहनत एवं अथक प्रयासों से खंडार का यह बालिका स्कूल जिले में फोर स्टार की रेंक पर था, जो अब फिसलकर थ्री स्टार की रेंक पर आ गया है। इस मामले में भी बालिकाओं द्वारा टीसी कटाकर स्कूल छोड़ने की बात प्रमुखता से सामने आई है। विद्यालय से टीसी कटाकर पलायन कर चुकी कई छात्राओं के अभिभावकों ने बताया कि उपखंड मुख्यालय पर स्थित यह राजकीय बालिका विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी होने के साथ साथ पूरे जिले में अपनी पहचान रखता है। इस विद्यालय का नामांकन उत्तरोत्तर बढ़ता गया और बालिकाओं के लिए स्कूल में ही जगह कम पड़ गई। एक समय तो स्थित यह थी की विद्यालय का नामांकन 800 को पार कर गया और विद्यालय को फोर स्टार की रेंक मिली थी। अब जब कक्षा कक्षों में जगह की कमी के चलते बालिकाएं विद्यालय से पलायन कर रही है

सांठ गांठ या बजट का अभाव

ग्रामीणों ने बताया कि अधिकारी इस स्कूल में बजट का बहाना लगाकर कक्षा कक्षों का निर्माण नहीं होने की बात कह रहे है, वह समझ से परे है क्योंकि क्षेत्र में कई स्कूलों में नवीन कक्षा कक्ष बनते आ रहे है। प्रधानाचार्या के प्रयासों से इस स्कूल का नामांकन लगातार बढ़ रहा था। वहीं निजी विद्यालयों का नामांकन लगातार घट रहा था। कई निजी स्कूलों की राजनेताओं एवं शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों से सांठ गांठ के चलते कक्षा कक्ष बनाने में जानबुझकर कोताही बरती जा रही है।

अनावश्यक स्थानों पर बना दिए कक्षा कक्ष

ग्रामीण क्षेत्रों में जिन विद्यालयों में नामांकन का आंकड़ा 100 से 200 के बीच है उन स्थानों पर तो शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा पर्याप्त कक्षा कक्ष बना दिए है। जबकि जिन स्थानों पर कक्षा कक्षों की सख्त आवश्यकता है।


यह है स्थिति

}1997-98 में सीनियर में क्रमोन्न्त

}वर्तमान में 1 से 12वीं तक संचालित

}वर्तमान में 6 कमरे

}आवश्यकता 20 कमरों की

}नामांकन 683

इसी सत्र में जुलाई में 823 से अधिक नामांकन था।

खंडार| कस्बे के राबाउमावि में 60 छात्राओं द्वारा टीसी कटाकर स्कूल छोड़ देने से विद्यालय का नामांकन कम हो गया है और फोर स्टार रेंक से थ्री स्टार रेंक पर आ गया है।

X
Khandar News - rajasthan news officer39s mistake four star to khandar39s school of girls from four star

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना