कथा में बताया हरिनाम संकीर्तन का महत्व

Sawai Madhopur News - खंडार| कस्बे में चल रही भागवत कथा में उपस्थित श्रोता। खंडार | श्री गीता भवन में 74वीं गीता जयंती महोत्सव के अवसर पर...

Dec 04, 2019, 10:31 AM IST
Khandar News - rajasthan news the importance of harinam sankirtan told in the story
खंडार| कस्बे में चल रही भागवत कथा में उपस्थित श्रोता।

खंडार | श्री गीता भवन में 74वीं गीता जयंती महोत्सव के अवसर पर स्वामी श्री कृष्णानंदजी महाराज एवं श्री नित्यानंदजी जी महाराज की पुण्य स्मृति में आयोजित श्रीमद् भागवत महापुराण कथा एवं भक्तमाल कथा में दूसरे दिन मंगलवार को कथा व्यास श्री गो भागवत शरण रघुनंदन शास्त्री ने हरि नाम संकीर्तन के महत्व पर अपने विचार रखे। साथ ही श्री नित्यानंद जी महाराज के विग्रह का अनावरण संतों के द्वारा किया गया। राष्ट्रीय गोसेवा मिशन के अध्यक्ष श्री कृष्णानंद जी महाराज ने गोसेवा को परम धर्म बताया। साथ ही खंडार में संचालित गोशाला के लिए सभी से अधिक से अधिक दान देने की अपील की।

भागवत कथा में बताई सत्संग की महत्ता

सूरवाल | करमोदा गांव स्थित मीणा झोपड़ा में चल रही भागवत कथा के दौरान कथा वाचक बृजराज शास्त्री धनोली वाले ने विभिन्न धार्मिक प्रसंग सुनाए। कथा वाचक कने गुरु की महत्ता बताते हुए कहा कि गुरु हमारे जीवन में अनुपम है, क्योंकि गुरु के बिना हम जीवन का सार ही नहीं समझ सकते। वही सत्संग से मानव के जीवन की धारा बदल जाती है। ऐसे में संतों के साथ सत्संग करते रहना चाहिए। कथा के दौरान वातावरण भक्तिमय हो गया। कथा के दौरान गायक कलाकार विष्णु राव चौथ का बरवाड़ा ने भगवान के भजनों की प्रस्तुतियां दी, जिस पर श्रोताओं ने जमकर नृत्य किया। कथा श्रवण करने के लिए सूरवाल, मैनपुरा, करमोदा सहित कई गांवों के श्रोता उपस्थित थे।

Khandar News - rajasthan news the importance of harinam sankirtan told in the story
X
Khandar News - rajasthan news the importance of harinam sankirtan told in the story
Khandar News - rajasthan news the importance of harinam sankirtan told in the story
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना