• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sayala
  • Sayala - उम्मेदाबाद मठ पहुंचे सैकड़ों संतों ने आशा भारती को 20वें महंत बनाने की भरी हामी, गादीतिलक कर चादर ओढ़ाई
--Advertisement--

उम्मेदाबाद मठ पहुंचे सैकड़ों संतों ने आशा भारती को 20वें महंत बनाने की भरी हामी, गादीतिलक कर चादर ओढ़ाई

निकटवर्ती उम्मेदाबाद स्थित शीलेश्वर महादेव मठ में मंगलवार को महंत रावत भारती महाराज के ब्रह्मलीन होने के बाद...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 06:20 AM IST
Sayala - उम्मेदाबाद मठ पहुंचे सैकड़ों संतों ने आशा भारती को 20वें महंत बनाने की भरी हामी, गादीतिलक कर चादर ओढ़ाई
निकटवर्ती उम्मेदाबाद स्थित शीलेश्वर महादेव मठ में मंगलवार को महंत रावत भारती महाराज के ब्रह्मलीन होने के बाद मंगलवार को महंत अाशा भारती महाराज के गादीतिलक व चादर ओढऩे का कार्यक्रम हुआ। सर्वसम्मति से ब्रह्मलीन महंत के शिष्य आशा भारती को महंत बनाने का निर्णय लिया गया। जिस पर महंत की समाधि स्थल के आगे गादी तिलक का आयोजन किया गया।जिसमें आचार्यों ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ पूजा.अर्चना कर कार्यक्रम प्रारंभ किया। आशा भारती को मठ की परम्परानुसार भगवा साफा पहनाकर व चादर ओढ़ाकर गादी तिलक किया गया। गादी तिलक के बाद महंत आशा भारती ने अन्नपूर्णा माता मंदिर, शीलेश्वर महादेव मंदिर व ब्रह्मलीन महंत की समाधि पर दर्शन कर शीश नवाकर आशीर्वाद लिया। वहीं मठ से कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। जहां पर श्रद्धालुओं ने महंत को माला पहनाकर आशीर्वाद लिया। गादीतिलक तिलक समारोह में ब्रह्मलीन महंत रावत भारती महाराज का भंडारा धूमधाम से आयोजित करने का निर्णय लिया गया। दिसंबर महीने में भंडारा होगा।

कार्यक्रम में कई संतों का रहा सानिध्य : इस दौरान सिरे मंदिर गादीपति गंगानाथ महाराज, लेटा महंत रणछोड़ भारती, पांडगरा महंत परबतगिरी, जागनाथ महंत महेंद्र भारती, पुनासा महंत बाबूगिरी, गजीपुरा महंत प्रेम भारती, वालेरा महंत पारस भारती, बडग़ांव महंत लेहर भारती, माण्डवला महंत लालभारती, कोमता महंत उम्मेदगिरी, भेरूसिंह, भवानीसिंह, सायला सरपंच सुरेश राजपुरोहित, नैनमल लखारा, भगवतसिंह, शैतानसिंह, मांगीलाल राजपुरोहित, परबतसिंह दहिया, राजेंद्र माहेश्वरी, नारायणसिंह जोधा सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे।

सायला. उम्मेदाबाद में गादी तिलक समारोह में उमड़े श्रद्धालु व रस्म पूरी करते संत।

मठ धर्म संस्कृति के प्रतीक : गंगानाथ महाराज

धर्मसभा में सिरे मंदिर गादीपति गंगानाथ महाराज ने कहा कि मठ प्राचीनकाल से धर्म.संस्कृति के प्रतीक रहे है।जो सनातन धर्म के वाहक के रूप में सभी के सहयोग के चल रहे है। जिसमे महंत के सानिध्य में धर्म का प्रसार कर प्राणी मात्र के कल्याण का कार्य कर सदमार्ग की और अग्रसर किया जाता है। बडग़ांव महंत लेहर भारती ने भी संबोधन दिया।

Sayala - उम्मेदाबाद मठ पहुंचे सैकड़ों संतों ने आशा भारती को 20वें महंत बनाने की भरी हामी, गादीतिलक कर चादर ओढ़ाई
X
Sayala - उम्मेदाबाद मठ पहुंचे सैकड़ों संतों ने आशा भारती को 20वें महंत बनाने की भरी हामी, गादीतिलक कर चादर ओढ़ाई
Sayala - उम्मेदाबाद मठ पहुंचे सैकड़ों संतों ने आशा भारती को 20वें महंत बनाने की भरी हामी, गादीतिलक कर चादर ओढ़ाई
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..