--Advertisement--

अब एक साथ होगा एमबीएस का एग्जाम

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग अधिनियम में संशोधन के बाद नए निर्णय लिए गए हैं। नए ड्राफ्ट के अनुसार अब देश भर में...

Dainik Bhaskar

Mar 31, 2018, 06:30 AM IST
राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग अधिनियम में संशोधन के बाद नए निर्णय लिए गए हैं। नए ड्राफ्ट के अनुसार अब देश भर में एमबीबीएस का फाइनल एग्जाम एक साथ होगा। फाइनल एग्जाम के बाद प्रैक्टिस के लिए एक्जिट एग्जाम का प्रावधान फिलहाल मसौदे में शामिल नहीं है। इससे पहले सरकार की मंशा थी कि फाइनल एग्जाम के बाद एक्जिट एग्जाम करवाकर ही डॉक्टर्स को प्रैक्टिस का लाइसेंस दे। हालांकि अभी इस ड्राफ्ट पर स्टूडेंट्स और एक्सपर्ट के सुझाव मांगे हैं। इसके बाद फाइनल रिपोर्ट संसद में पेश होगी। इसके बाद ही इसको लागू किया जाएगा। आयुष चिकित्सकों को आधुनिक चिकित्सा पद्धति से जुड़ने के लिए शुरू किया गए ब्रिज कोर्स को इस ड्राफ्ट में समाप्त कर दिया गा है। इसके साथ ही राज्य सरकारों को ही जिम्मेदारी दी गई है कि वह ग्रामीण क्षेत्रों में प्राथमिक चिकित्सा सुविधाओं को बेहतर बनाए। मेडिकल कॉलेजों में नियमों को नहीं मानने पर बड़े जुर्माने का भी प्रावधान किया गया है। इसमें एडमिशन से लेकर एमबीबीएस पूरी करने की तक की अवधि है। अगर कोई मेडिकल कॉलेज नियम नहीं मानता है तो संबंधित बैच की आधी फीस बतौर जुर्माने के रूप में देनी होगी। हालांकि यह तय हो चुका है कि अगले साल भी मेडिकल एंट्रेंस के लिए नीट ही होगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..