• Home
  • Rajasthan News
  • Shahjahanpur News
  • सफाईकर्मियों को हटाकर स्वच्छता अभियान का उड़ाया जा रहा मखौल
--Advertisement--

सफाईकर्मियों को हटाकर स्वच्छता अभियान का उड़ाया जा रहा मखौल

भाजपा के भवानी सिंह ने मुद्दा उठाया तो राठौड़ बोले- केंद्र की आपत्ति के बाद हटाए गए थे कर्मी जयपुर | प्रश्नकाल के...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 06:30 AM IST
भाजपा के भवानी सिंह ने मुद्दा उठाया तो राठौड़ बोले- केंद्र की आपत्ति के बाद हटाए गए थे कर्मी

जयपुर | प्रश्नकाल के दौरान पूरक प्रश्न पूछते हुए भाजपा विधायक भवानी सिंह राजावत ने कहा कि गांवों में मनरेगा के तहत लगे सफाई कर्मचारियों को हटाकर सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान का मखौल उड़ा रही है। उन्हें पूछा कि गांवों के सफाई कर्मचारियों को क्यों हटाया गया? इस पर पंचायतराज मंत्री राजेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा कि 150 घरों पर 2 सफाईकर्मी रखने का प्रावधान किया था, लेकिन केंद्र सरकार ने ऐतराज कर दिया था। इसकी अनुमति नहीं दी थी। केंद्र से से पत्राचार जारी है, जिन्होंने मजदूरी की है उनका पैसा नहीं रोका जाएगा।

राठौड़ ने मनरेगा के एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि टोंक जिले में भी 60-40 का अनुपात मेंटेन किया गया है। अधिकारियों की ओर से दी गई सूचना गलत है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई करूंगा। अभी राज्य में 250 करोड़ लेबर का, 500 करोड़ का मेटेरियल कम्पोनेंट का पेमेंट बकाया है। झुंझुनूं जिले में 52 फीसदी पैसा मेटेरियल कम्पोनेंट पर खर्च कर दिया, इसकी जांच करवाएंगे। उन्होंने कहा कि चूरू जिले में ज्यादा खर्च नहीं हुआ।

15 दिन में लगा देंगे नागौर में डाॅक्टर

नागौर के जेएलएन चिकित्सालय में बैड बढ़ोतरी पर विधायक हबीबुर्रहमान अशरफी ने सवाल लगाया था। इस पर चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ ने जवाब दिया कि उपयोगिता के आधार पर बैड बढ़ाए जाते हैं। अस्पताल में 58.80 प्रतिशत ही उपयोगिता है। जैसे-जैसे उपयोगिता बढ़ेगी और आवश्यकता होगी तो बढ़ोतरी करेंगे। उन्होंने कहा कि अगले 15 दिन में अस्पताल में डॉक्टर लगा दिए जाएंगे।