• Home
  • Rajasthan News
  • Shahjahanpur News
  • अभियान में पुरुषों को जरूर जोड़िए, क्योंकि ज्यादातर मामलों में वे ही शामिल होते हैं
--Advertisement--

अभियान में पुरुषों को जरूर जोड़िए, क्योंकि ज्यादातर मामलों में वे ही शामिल होते हैं

एजेंसी | मुंबई | बॉम्बे हाईकोर्ट ने कार्यस्थल पर यौन प्रताड़ना के मामलों की रोकथाम और जागरूकता के लिए अभियान को...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 06:30 AM IST
एजेंसी | मुंबई | बॉम्बे हाईकोर्ट ने कार्यस्थल पर यौन प्रताड़ना के मामलों की रोकथाम और जागरूकता के लिए अभियान को स्कूलों में भी चलाने को कहा है। जस्टिस नरेश पाटिल और जस्टिस जी एस कुलकर्णी ने महाराष्ट्र सरकार से कहा है कि पांचवीं कक्षा से लेकर आगे तक के लिए ये जागरूकता अभियान चलाया जाना चाहिए। कोर्ट ने कहा कि इस दौरान बच्चों को हेल्दी रिलेशनशिप और यौन प्रताड़ना के प्रति जागरूक किया जाना चाहिए। कोर्ट ने महाराष्ट्र महिला आयोग के कॉलेज, सरकारी दफ्तरों में इस मामले पर जागरूकता अभियान को देखते हुए ये निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने कहा है कि इस अभियान में पुत्र, पिता या पति के तौर पर पुरुषों की भागीदारी भी सुनिश्चित की जाए, क्योंकि ऐसे मामलों में ज्यादातर पुरुष ही शामिल होते हैं। इन अभियानों से उन्हें ये समझ आएगा कि उन्हें किस तरह व्यवहार करना चाहिए।