Hindi News »Rajasthan »Shahjanpur» सीबीएसई 10वीं मैथ्स व 12वीं इकोनॉमिक्स का पेपर रद्द, 24 लाख को दोबारा देना होगा

सीबीएसई 10वीं मैथ्स व 12वीं इकोनॉमिक्स का पेपर रद्द, 24 लाख को दोबारा देना होगा

पिछले 13 दिन से पेपर लीक होने की खबरें नकार रहे सीबीएसई ने आखिर मान लिया कि पेपर लीक हुए हैं। बोर्ड ने बुधवार को 10वीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 29, 2018, 06:55 AM IST

पिछले 13 दिन से पेपर लीक होने की खबरें नकार रहे सीबीएसई ने आखिर मान लिया कि पेपर लीक हुए हैं। बोर्ड ने बुधवार को 10वीं और 12वीं के दो पेपर रद्द कर दिए। बुधवार को हुआ 10वीं का गणित और साेमवार को हो चुका 12वीं का इकोनॉमिक्स का पेपर दोबारा लिया जाएगा। नई तारीखें हफ्तेभर में सीबीएसई की वेबसाइट पर बताई जाएंगी। देशभर में 24 लाख बच्चों को दोबारा परीक्षा देनी होगी। इनमें जयपुर के 31 हजार बच्चे हैं।

इसी बीच, 12वीं का इकोनॉमिक्स का पेपर लीक होने के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने केस दर्ज किया है। संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार ने बताया कि बोर्ड की शिकायत पर मंगलवार को ही केस दर्ज किया था। शेष | पेज 2

एक स्पेशल टीम जांच में जुटी है। उल्लेखनीय है कि परीक्षा से पहले हाथ से लिखे सवाल वाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया पर शेयर हो रहे थे। पेपर में भी यही सवाल आए। हालांकि, सीबीएसई लगातार दावा करता रहा कि पेपर लीक नहीं हुए हैं। पहले 15 मार्च को 12वीं का अकाउंट का पेपर लीक होने की खबर आई थी। सीबीएसई ने इसे लीक मानने से इनकार कर दिया था।

पेपर रद्द होने का असर देशभर पर, क्योंकि इसी साल से देश में एक पेपर पर एग्जाम शुरू हुए:

गणित और इकोनॉमिक्स का पेपर देशभर में सभी छात्रों को दोबारा देना पड़ेगा। सीबीएसई ने इसी साल से देशभर में एक ही प्रश्न पत्र पर पेपर करवाने शुरू किए हैं। पहले हर रीजन के हिसाब से प्रश्न पत्रों के सेट अलग-अलग होते थे। अगर वही सिस्टम होता तो एक रीजन में पेपर लीक होने का असर देशभर के छात्रों पर नहीं पड़ता। साल 2006 और 2011 में पेपर लीक होेने का असर संबंधित रीजन पर ही पड़ा था।

अशोक गांगुली, पूर्व चेयरमैन, सीबीएसई

कांग्रेस की चुटकी; मोदी सरकार का नाम हो पेपर लीक सरकार:

मोदी सरकार का नाम बदलकर पेपर लीक सरकार करना चाहिए। एसएससी घोटाले ने दो करोड़ से ज्यादा युवाओं का भविष्य अंधकारमय कर दिया है। सीबीएसई पेपर लीक से लाखों बच्चों की आकांक्षाओं पर चोट पहुंची है। सरकार ने एग्जाम वारियर्स के भविष्य पर प्रश्नचिह्न लगा दिया है।

- रणदीप सुरजेवाला, कांग्रेस

एसएससी एग्जाम में ऑनलाइन नकल करवाने के चार आरोपी गिरफ्तार:

दिल्ली पुलिस और यूपी एसटीएफ ने एसएससी की ऑनलाइन परीक्षा में नकल करवाने वाले गैंग के चार लोगों को गिरफ्तार किया है। यह लोग कम्प्यूटर पर टीम व्यूअर सॉफ्टवेयर से नकल करवा रहे थे। ऑनलाइन परीक्षा में पास करवाने के लिए 100-150 पेपर सॉल्वर इस्तेमाल किए जाते थे। आरोपियों के पास से तीन लैपटॉप, 10 फोन, 50 लाख रुपए, तीन लग्जरी गाड़ियां, पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क और अन्य दस्तावेज मिले हैं। आरोपी एक अभ्यर्थी से परीक्षा पास करवाने के बदले 10 से 15 लाख रुपए लेते थे। उल्लेखनीय है कि एसएससी की 17 से 22 फरवरी तक हुई सीजीएल परीक्षा में पेपर लीक होने के खिलाफ छात्रों ने बड़े स्तर पर विरोध किया था। इसके बाद मामले की सीबीआई जांच के आदेश दिए गए थे।

सोमवार से लीक-प्रूफ सिस्टम लाएंगे : जावड़ेकर

पेपर लीक पर नाराज पीएम नरेंद्र मोदी ने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है। इसके बाद जावड़ेकर ने कहा कि बाकी परीक्षाओं के लिए सोमवार से लीक-प्रूफ सिस्टम लाएंगे। आधुनिक तकनीक का सहारा लेकर सुरक्षा के नए पुख्ता प्रबंध किए जाएंगे। उन्होंने यह नहीं बताया कि यह सिस्टम कैसा होगा।

लीक प्रूफ होगा सिस्टम; एग्जाम से आधा घंटा पहले इलेक्ट्रॉनिकली भेजा जाएगा पेपर, सेंटर पर ही प्रिंट होगा

अभी यह सिस्टम है : परीक्षा से हफ्तेभर पहले जिलों में स्थित स्टोरेज सेंटर पर पेपर पहुंच जाते हैं। सीबीएसई के नॉमिनी परीक्षा के दिन स्टोरेज सेंटर से संबंधित पेपर लेकर केंद्रों पर पहुंचाते हैं।

अब यह होगा : अब परीक्षा से आधा घंटा पहले सेंटरों पर इलेक्ट्रॉनिक तरीके से पेपर भेजा जाएगा। यह पासवर्ड प्रोटेक्टेड होगा। सेंटर पर प्रिंट निकालकर छात्रों को पेपर बांटा जाएगा।

सवाल :अप्रैल-मई में कई प्रवेश परीक्षाएं, बच्चे अब उनकी तैयारी करें या पेपर की ?

12वीं की परीक्षाएं 13 अप्रैल को खत्म होनी थीं। इकॉनोमिक्स का पेपर दोबारा कब लिया जाएगा, तय नहीं है। ऐसे में 12वीं के विद्यार्थियों के लिए यह बड़ी परेशानी बन गई है। दरअसल अप्रैल, मई में कई प्रवेश परीक्षाएं हैं। ऐसे में ये विद्यार्थी दोबारा इकोनॉमिक्स विषय की तैयारी करें या प्रवेश परीक्षाओं की। सीबीएसई 12वीं में आर्ट्स, कॉमर्स ही नहीं, बल्कि साइंस में फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ्स व बायोलॉजी के साथ इकोनॉमिक्स का भी कांबिनेशन है।

कब कौनसी परीक्षा

नाटा, आर्किटेक्चर में प्रवेश 29 अप्रैल

नीट 5 मई

क्लेट (सामान्य लॉ प्रवेश परीक्षा) 13 मई

जेईई एडवांस 20 मई

एआईआईएमएस यूजी ऑनलाइन 26, 27 मई

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahjanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×