• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shahjanpur
  • डीएमआईसी में गई भूमि को मुक्त नहीं करा पाए विधायक, परंपरागत वोट भी खिसका
--Advertisement--

डीएमआईसी में गई भूमि को मुक्त नहीं करा पाए विधायक, परंपरागत वोट भी खिसका

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 07:00 AM IST

Shahjanpur News - मुंडावर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी डॉ. जसवंत यादव को 8337 मतों से हार का सामना करना पड़ा है, जबकि पिछले...

डीएमआईसी में गई भूमि को मुक्त नहीं करा पाए विधायक, परंपरागत वोट भी खिसका
मुंडावर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी डॉ. जसवंत यादव को 8337 मतों से हार का सामना करना पड़ा है, जबकि पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा के रामहेत यादव ने यहां से 29417 मतों से जीत दर्ज की थी। लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. करण सिंह यादव को यहां 62162 और भाजपा को 53825 वोट मिले हैं। चार साल में जनता की पीड़ा पर मरहम नहीं लगाने का परिणाम यह रहा कि भाजपा को लोकसभा उपचुनाव में मुंडावर विधानसभा क्षेत्र से हार का सामना करना पड़ा है। यहां विधायक की न तो सरकार ने सुनी और न ही प्रशासन ने। ऐसी स्थिति में शिकायत लेकर विधायक से पास पहुंचे लोगों को टालमटोल जवाब ही मिले। ऐसे में मतदाताओं ने उपचुनाव में ईवीएम के बटन के जरिए अपना आक्रोश जाहिर कर दिया। यहां डीएमआईसी में अधिग्रहित भूमि को लेकर किसानों में सरकार के खिलाफ छह साल से काफी आक्रोश रहा है। सरकार की ओर से वर्ष 2012 से अधिग्रहित 10 गांवों के किसानों की करीब 1425 हैक्टेयर भूमि का विधायक न तो मुआवजा दिला सके और न ही अधिग्रहण से मुक्त करा सके। सरकार ने पांच गांवों चौबारा, शाहजहांपुर, गूगलकोटा, जोनायचा खुर्द और सकतपुरा बाबत की भूमि को मंत्रीमंडल की बैठक में अधिग्रहण से मुक्त करने का निर्णय तो लिया, लेकिन अभी नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है। वहीं दूसरे पांच गांवों की जमीन के मुआवजे की सरकार सुध नहीं ले रही है। भाजपा का राजपूत, वैश्य और ब्राह्मण वोट भी खिसक गया है। आक्रोश का मुख्य कारण राजपूत समाज में फिल्म पदमावत का विरोध और वैश्य समाज में सरकार की नीतियां रही हैं। वहीं भाजपा की ओर से उपचुनाव में ब्राह्मण प्रत्याशी घोषित नहीं करने से ब्राह्मण समाज काफी खफा रहा है।

मुंडावर : ये रहे कांग्रेस की जीत के कारण

कांग्रेस ने जातिगत वोटों में सेंध लगाई है। बूथ जीतने का दावा करने वाली भाजपा की रणनीति फेल हो गई। कांग्रेस नेताओं ने कार्यकर्ताओं में पैठ बनाई है। सरकार की ओर से किसानों को डीएमआईसी के लिए अधिकृत भूमि का मुआवजा नहीं मिलने का किसानों के आक्रोश को चुनाव में कांग्रेस ने भुनाया है।

X
डीएमआईसी में गई भूमि को मुक्त नहीं करा पाए विधायक, परंपरागत वोट भी खिसका
Astrology

Recommended

Click to listen..