Hindi News »Rajasthan »Shahjanpur» नीमराना की सोसायटी के फ्लैट में चीकू गैंग ने ड्रग तस्करों को गोली मारी, एक की मौत, दूसरा घायल

नीमराना की सोसायटी के फ्लैट में चीकू गैंग ने ड्रग तस्करों को गोली मारी, एक की मौत, दूसरा घायल

जापानी औद्योगिक क्षेत्र स्थित अनंतराज आश्रय हाउसिंग सोसायटी में दिल्ली पुलिस के एक कार्मिक के नाम रजिस्टर्ड...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 07:00 AM IST

जापानी औद्योगिक क्षेत्र स्थित अनंतराज आश्रय हाउसिंग सोसायटी में दिल्ली पुलिस के एक कार्मिक के नाम रजिस्टर्ड फ्लैट में बुधवार रात गैंगवार की घटना में चीकू गैंग के 3 बदमाशों ने मादक पदार्थ तस्कर एवं उसके साथी को गोली मार दी। तस्कर के साथी दीपक कुम्हार की सीने में 2 गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। जबकि तस्कर मोंटी उर्फ चंद्रशेखर के सिर एवं हाथ में गोली लगी। उसे गंभीर हालत में जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया। वारदात के बाद तीनों हमलावर बाइक पर फरार हो गए। पुलिस ने मादक पदार्थ तस्करी के आरोपी मोंटी उर्फ चंद्रशेखर पुत्र वीरेंद्र (24) निवासी रामपुरा पुलिस थाना सदर नारनौल जिला महेंद्रगढ़-हरियाणा के अस्पताल में दिए पर्चा बयान के आधार पर हत्या, हत्या के प्रयास और आर्म्स एक्ट में मामला दर्ज किया है। मोंटी ने बयान में बताया कि चीकू गैंग के तीन गुर्गों दीपक यादव, मोहित निवासी गोद बलावा व शम्मी सरदार निवासी नारनौल ने उसे गोली मारी। गौरतलब है कि मोंटी उर्फ चंद्रशेखर के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट सहित कई मामले नारनौल सदर पुलिस थाने में दर्ज हैं। जिस फ्लैट में गैंगवार हुई वह दिल्ली पुलिस में कार्यरत कृष्ण यादव पुत्र रामकिशन निवासी आरजेडए-29 महावीर विहार सेक्टर 1 द्वारका दिल्ली के नाम रजिस्टर्ड है। मृतक दीपक कुम्हार ने दो दिन पहले ही ब्रोकर संदीप भार्गव निवासी रेवाड़ी से फ्लैट किराए पर लिया था। फायरिंग की घटना के बाद सोसायटी में सनसनी फैल गई। गुरुवार सुबह बहरोड़ पुलिस उपाधीक्षक जनेश सिंह तंवर, अलवर से मोबाइल फॉरेंसिक यूनिट एवं डॉग स्क्वायड टीम मौके पर पहुंचे। छानबीन के बाद फ्लैट को सील कर दिया गया। मृतक का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

हाउसिंग सोसाइटी में एक व्यक्ति को गोली मारी गई है जिसकी मौत हो गई है। घायल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने पूछताछ के लिए उसे भी हिरासत में लिया है। दोनों ही पक्ष हरियाणा के हैं। मामले की गहनता से जांच कर रहे हैं। हिमांशु, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीमराना।

नीमराना. कमरे में जांच करती पुलिस व एफएसएल की टीम।

नीमराना पुलिस पर हमला कर चुका है गैंग का सरगना चीकू

चीकू गैंग का सरगना सुरेंद्र उर्फ चीकू पुत्र भरत सिंह (32) निवासी जाति जाट निवासी मोहनपुर पुलिस थाना सदर नारनौल जिला महेंद्रगढ़ हरियाणा ने नीमराना पुलिस के गश्ती दल पर 7 नवंबर 2014 को मोहलडिया फ्लाईओवर के पास हमला किया था। घटना में हेड कांस्टेबल हरफूल मीणा सहित चार जवान बाल-बाल बचे लेकिन चीकू रास्ते में एक युवक को पिस्तौल से धमका बाइक छीन ले गया था।

चीकू गैंग का बिल्डर से गठजोड़

पुलिस सूत्रों के मुताबिक चीकू गैंग के सरगना सुरेंद्र उर्फ चीकू का क्षेत्र के एक बिल्डर से गहरे ताल्लुकात हैं। हरियाणा में अपराध करने के बाद काफी दिनों तक उसने नीमराना को अपनी शरण स्थली बनाया था लेकिन स्थानीय पुलिस की नाकामी के चलते पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई थी। बीच में हरियाणा पुलिस ने उसके एनकाउंटर की तैयारी भी कर ली थी, लेकिन वह नीमराना में आकर छिप गया था।

ड्रग्स की डिलीवरी की बात पर झगड़ा

पुलिस सूत्रों के मुताबिक फ्लैट में उक्त सभी बदमाश रात को शराब पार्टी कर रहे थे। इसी बीच चीकू गैंग के गुर्गों की मोंटी व उसके साथी दीपक कुम्हार से ड्रग्स की डिलीवरी को लेकर बहस हो गई। मामला गर्माया और चीकू गैंग के बदमाशों ने दीपक कुम्हार के सीने में दो गोलियां मार दी। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जबकि मोंटी के सिर एवं हाथ पर गोली लगी। घायल हालत में वह फ्लैट से बाहर भाग गया। जान बचाने के लिए वह हाउसिंग सोसायटी में दौड़ता रहा। इस दौरान हमलावर मौके से फरार हो गए। सामने वाले फ्लैट में रह रहे तायो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के इंजीनियर मनोज गुप्ता ने फायरिंग सुनने के बाद सिक्योरिटी सुपरवाइजर को सूचना दी।

एक गोली निकली आरपार, दूसरी फंसी

पुलिस ने बताया कि मृतक दीपक कुम्हार पुत्र रोहिताश हरियाणा के नारनौल सदर पुलिस थाना क्षेत्र के बीगोपुर का रहने वाला था। उसे दो गोलियां मारी गईं। एक गोली सीने के आर-पार हो गई। दूसरी गोली सीने में फंसी रह गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद गोली जब्त कर ली है। नीमराना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ हेमंत डागर एवं शाहजहांपुर सीएचसी के चिकित्सक डॉ महेंद्र टोडावत के मेडिकल बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया।

एफएसएल, डॉग स्क्वायड ने लिए साक्ष्य

गैंगवार की घटना के बाद गुरुवार सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर अलवर मोबाइल फॉरेंसिक यूनिट के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ राहुल दीक्षित एवं डॉग स्क्वायड टीमें मौके पर पहुंची तथा घटनास्थल से रक्त के नमूने और अन्य साक्ष्य एकत्र किये। पुलिस ने छानबीन पूरी होने के बाद फ्लैट को सील कर दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahjanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×